नैट्रम नाइट्रिकम [ Natrum Nitricum Homeopathy In Hindi ]

0
129
Natrum Nitricum

[ नाइट्रेट ऑफ सोडियम ] – साधारणतः सब तरह के प्रदाह और रक्तस्राव के लिए ही इसका उपयोग होता है। प्रदाह की प्रधान दवाएँ – एकोनाइट, फेरम फॉस, बेलाडोना इत्यादि है, नैट्रम नाइट्रिकम – उक्त सभी दवाओं की अपेक्षा और भी जल्दी फायदा पहुँचाती है। नाक से रक्तस्राव हो तो उसकी यह एक प्रकार की पेटेण्ट दवा है। इसकी अलावा – रक्तोत्कास, पेशाब के रास्ते से खून जाना, रक्तस्रावी चेचक इत्यादि रोगों की भी यह महौषधि है। हृत्पिण्ड की बीमारी के साथ रक्त निकलने में कैक्टस दवा लाभ देता है।

खट्टा पानी मुंह में आता है, रोगी को कॉफी से एलर्जी होती है, पेट में गैस भरता है, गैस से सीने में दर्द होता है, डकार से राहत मिले और हरकत से रोग में वृद्धि हो, हृदय क्षेत्र में दर्द होता है, नाड़ी धीमी और कोमल होती है तो ऐसे लक्षण में नैट्रम नाइट्रिकम से लाभ होता है।

क्रम – 2x से 3x शक्ति।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here