Pain In Throat Homeopathy

Pain In Throat Homeopathy

एकोनाइट 30 – आकस्मिक रूप से सूखी ठंड लगने के कारण गले में दर्द हो, बेचैनी हो, तीव्र ज्वर भी हो तो लाभप्रद है ।

बेलाडोना 30– गले में दर्द जो कि सुई गड़ने जैसा हो, जलन, लाली, निगलने में कष्ट होना- इन सभी लक्षणों में लाभप्रद है ।

मर्क कॉर 6 – गले में लाली, सूजन, दर्द जो कानों तक फैलता हो आदि लक्षणों में देनी चाहिये ।

फाइटोलक्का 30 – गले में दर्द जो ठंडी वस्तुओं के सेवन से घटे, गला एकदम से बैठ गया हो या गला बैठने का रोग पुराना पड़ चुका हो तो इस दवा के प्रयोग से लाभ होता है ।

लैकेसिस 6 – गले में तेज दर्द जो गर्म वस्तुयें खाने से बढ़े और जो कानों तक फैल जाता हो तो लाभप्रद है ।

कैमोमिला 30 – गले में दर्द, गले में कुछ अटके होने या सिकुड़ने जैसा अनुभव होने पर लाभप्रद है ।



Related Post

Tonsil Treatment In Homeopathy

Tonsil Treatment In Homeopathy

A streptococcus haemolyticus bacterium is responsible for the tonsils. This disease is found more often in boys and girls, up…

Scrofula Treatment In Homeopathy

Scrofula Treatment In Homeopathy

शरीर के खून में दोष आ जाने, सीलनयुक्त स्थान पर रहने, पौष्टिक भोजन न मिल पाने, शुद्ध हवा न मिल…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *