चेहरे पे तिल की होम्योपैथिक दवा [ Homeopathic Medicine For Moles In Hindi ]

13,323

इस पोस्ट में हम चेहरे या शरीर में तिल हो जाने और उसे दूर करने की होम्योपैथिक दवा के बारे में जानेंगे।

तिल सभी के शरीर या चेहरे पर होता ही है परन्तु किसी-किसी के चेहरे या शरीर पर ज्यादा तिल हो जाते हैं जोकि व्यक्ति की खूबसूरती को ख़राब कर देते हैं। हमारे शरीर में बहुत सारे melanocyte cells होते हैं जोकि हमारे त्वचा में पाय जाते हैं, और उनका काम होता है melanin pigment को त्वचा से बाहर निकालना। Melanin pigment का काम होता है हमारे त्वचा के रंग को बरक़रार रखना। अगर melanin pigment का स्तर ज्यादा होगा तो हमारे त्वचा का रंग काला होता जायेगा और melanin pigment कम होगा तो त्वचा का रंग गोरा होगा। अब अगर melanocyte cells हमारे किसी भी अंग की त्वचा का melanin pigment के स्तर को नार्मल से ज्यादा बढ़ा दे तो वहां तिल आ जाया करती है। अगर ये बार-बार होने लगे तो इसे melanocytic nevus कहते हैं। मतलब बार-बार melanocyte cells कही न कही हमारे शरीर के स्किन में melanin pigment के स्तर को बढ़ा रहा है।

ऐसा देखा गया है की अगर हमारे माता-पिता को ज्यादा तिल हैं तो हमारे शरीर में भी तिल ज्यादा हो जाया करती हैं। ज्यादा केस में अनुवांशिकता के कारण ही ज्यादा तिल देखा गया है।

अगर आपको धुप में ज्यादा रहना पड़ता है तो भी आपको तिल होने की सम्भावना बढ़ जाती है। धुप में ज्यादा रहने से melanocyte cells हमारे स्किन के melanin pigment को बढ़ा देते हैं और अगर स्किन के किसी एक ही पॉइन्ट में melanin pigment बढ़ जाये तो तिल हो जाती है।

कभी-कभी प्रेग्नेंसी के समय हार्मोनल बदलाव के कारण भी महिलाओं को तिल हो जाया करता है।

चेहरे या शरीर पे तिल का होम्योपैथिक दवा

Oleum Santali Q – तिल के लिए ये बहुत ही प्रभावशाली मेडिसिन है। कहीं भी तिल हो खासकर चेहरे पे तो Oleum Santali mother tincture लें और जहाँ भी तिल हैं वहां इसे लगाएं। करीबन 3 से 4 महीने इस्तेमाल करने से तिल पूरी तरह साफ़ हो जाता है। ये तिल के लिए बहुत ही अच्छा रिजल्ट देता है, इस्तेमाल करें। दिन में 3 से 4 बार जरूर लगाएं।

Berberis aquifolium Q – अगर तिल, धब्बे, मस्से हैं तो ये जरूर इस्तेमाल करें। इस दवा को भी तिल पे दिन में दो बार लगाएं। इसका भी इस्तेमाल Oleum Santali Q के साथ करें तो आपको बहुत ही अच्छे रिजल्ट मिलेंगे।

Thuja Q – ये खासकर उन लोगों के लिए हैं जिसके चेहरे पर बहुत सारे तिल हैं। इसे भी आप Oleum Santali Q, Berberis aquifolium Q के साथ ही इस्तेमाल करें। जहाँ भी तिल हैं तो इसे लगाएं अच्छे परिणाम मिलेंगे।

Thuja 200 – इस दवा की दो बून्द दिन में दो बार अपने tongue पे टपका लिया करें। कभी-कभी melanocyte cells बढ़ जाते हैं, तिल को छूने से उसमे अलग सा उभार जैसा महसूस होता है तो इसमें Thuja 200 काफी अच्छा काम करेगा।

बताये गए सभी दवाओं का इस्तेमाल करने से आपके तिल, मस्से सभी ठीक हो जायेंगे।

Ask A Doctor

किसी भी रोग को ठीक करने के लिए आप हमारे सुयोग्य होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर का consultancy fee 200 रूपए है। Fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षण के बारे में पुछा जायेगा और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और दवा लेने की विधि बताई जाएगी। पेमेंट आप Paytm या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं। इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर पे सम्पर्क करें - +919006242658 सम्पूर्ण जानकारी के लिए लिंक पे क्लिक करें।

Loading...

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

Open chat
1
💬 Need help?
Hello 👋
Can we help you?