पसीने की बदबू का उपचार – Pasine Ki Badbu Se Chutkara

0
766

यदि आपके पसीने से बहुत बदबू आती है, तो नहाने के पानी में थोड़ा (एक बाल्टी पानी में दो बड़े चम्मच) सिरका डाल दें। उस पानी से नहाएं व बगलों को भी भली भांति धोएं।

रूई के फाहों को यू-डी-कोलोन में भिगोकर बगलों में दबा लें। सूख जाने पर फेंक दें। फिर बगलों में पाउडर लगा लें।

नहाते समय झांवे से हाथ-पैर, पीठ व गरदन के नीचे रगड़े – साबुन मलने से पहले भी व साबुन मलते समय भी। यदि आप लगभग रोज बालों पर पानी डालते हैं, तो उस पानी में आधा नीबू का रस मिला लें।

Loading...

तुलसी के पत्तों को उबाल कर पानी छान लें। इस पानी को दो-तीन लोटे पानी में मिलाकर रखें और ठंडा होने दें। नहाने के बाद इसी पानी को शरीर पर डालें। हरी पत्तेदार सब्जियां व हरे रंग की अन्य सब्जियां – जैसे खीरा, ककड़ी आदि खाएं। इससे भी पसीने की बदबू कम हो जाएगी।

पसीने की बदबू दूर करने के उपाय

अत्यधिक, चिपचिपा पसीना – रोगी गर्मी बर्दाश्त नहीं कर पाता हो तो – ‘मर्कसॉल’ 30 एवं 200 में।

स्थान विशेष का पसीना – ‘कैल्केरिया कार्ब’ 200 की तीन खुराक।

खूनी पसीना – ‘क्रोटेलस’।

अत्यधिक गर्म पसीना – ‘लेकेसिस’ 200, ‘ओपियम’ 30, ‘कैमोमिला’ 30

मीठा पसीना (पसीने पर मक्खियां बैठती हैं) – ‘केलेडियम’ 30

अत्यधिक बदबूदार पसीना – ‘मर्कसॉल ‘200, ‘रयूम’ 30, ‘साइलेशिया’ 30, ‘सल्फ्यूरिक एसिड’ 30 में लें।

पसीने से कपड़े पीले हो जाएं – ‘मर्कसॉल’ 200

ठंडा पसीना – ‘वेरेट्रम एल्बम’ 30

सिर्फ काम करते समय ही पसीना आए, तो – ‘सैमब्युकस’ 30

Ask A Doctor

किसी भी रोग को ठीक करने के लिए आप हमारे सुयोग्य होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर का consultancy fee 200 रूपए है। Fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षण के बारे में पुछा जायेगा और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और दवा लेने की विधि बताई जाएगी। पेमेंट आप Paytm या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं। इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर पे सम्पर्क करें - +919006242658 सम्पूर्ण जानकारी के लिए लिंक पे क्लिक करें।

पसीना आने के बाद रोगी राहत महसूस करे, तो – ‘सोराइनम’ 200, ‘नेट्रमम्यूर’ 200, ‘आर्सेनिक’ 30

Loading...