आफ्टर डिलीवरी हेयर फॉल ट्रीटमेंट इन हिंदी

0
407

डिलीवरी के बाद कमजोरी आदि के कारण सिर के बाल झड़ने लगें तो लक्षणानुसार निम्नलिखित होम्योपैथिक औषधियों का प्रयोग करना चाहिए :-

सीपिया 30, 200 – यदि ऋतुस्राव बन्द होने के कारण केश झड़ते हों तो इसकृा प्रयोग करें।

कैल्केरिया-कार्ब 30, 200 – सिर के बालों की जड़ों में दुखन, सिर में रूसी, सिर में सर्दी लगने के कारण बार-बार खाँसी जुकाम की शिकायत तथा कनपटी के बाल झड़ना-इन सब लक्षणों में लाभकर है ।

Loading...

सल्फर 30, 200 – खोपड़ी की त्वचा का स्पर्श करने पर उसमें दर्द होना, बालों की खुश्की, सिर में अत्यधिक खुजली-जो रात के समय बढ़ जाती हो तथा गर्दन की ग्रन्थि की सूजन – प्रसव के बाद इन लक्षणों के साथ बाल झड़ने पर इसे दें।

लाइकोपोडियम 30 – सिर के बालों का झड़ना तथा अन्य अंगों के बालों में वृद्धि होना-इस विचित्र लक्षण में इसका प्रयोग करें ।

ग्रैफाइटिस 30, 200 – सिर के बालों का झड़ना, जल्दी सफेद हो जाना तथा सिर पर दुर्गन्धित पसीना आना, जिसके स्पर्श से कपड़ा पीला पड़ जाता हो – इन लक्षणों में हितकर हैं ।

मर्क-सोल 3, 6, 30 – कनपटियों के बाल झड़ना, सिर पर पसीना आना तथा रात के समय खुजली मचना-इन लक्षणों में दें ।

फास्फोरस 30, 200 – सिर या कनपटी के ऊपरी भाग से गुच्छे के रूप में बालों का झड़ना, खोपड़ी में खुश्की तथा अत्यधिक गर्मी एवं खोपड़ी से छिछड़े (रूसी) झड़ना – इन लक्षणों में हितकर हैं ।

लैकेसिस 30 – सिर के बालों का स्पर्श न कर पाना, सूर्य की गर्मी सहन न होना तथा बाल झड़ना-इन लक्षणों में दें।

नाइट्रिक-एसिड 6 – नर्वस सिर-दर्द के साथ अत्यधिक कमजोरी का अनुभव, शरीर का क्षीण होते जाना तथा प्रसव के बाद सिर के बाल झड़ना-इन लक्षणों में प्रयोग करें ।

नेट्रम-म्यूर 30, 200 – सिर को छूते ही बालों का झड़ने लगना एवं प्रसवोपरान्त सिर के सामने वाले भाग के बालों का झड़ना – इन लक्षणों में लाभकर है ।

Ask A Doctor

किसी भी रोग को ठीक करने के लिए आप हमारे सुयोग्य होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर का consultancy fee 200 रूपए है। Fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षण के बारे में पुछा जायेगा और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और दवा लेने की विधि बताई जाएगी। पेमेंट आप Paytm या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं। इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर पे सम्पर्क करें - +919006242658

विशेष – उक्त औषधियों के अतिरिक्त लक्षणानुसार चायना 6, फास्फोरिक एसिड 6 अथवा आर्सेनिक 6 – देने की आवश्यकता भी पड़ सकती है।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here