मुंहासे (पिंपल्स), एक्ने की होम्योपैथिक दवा और इलाज | Pimples, Acne Ki Homeopathic Medicine In Hindi

0 338

इस लेख में हम मुँहासे, acne जैसी समस्या को ठीक करने की होम्योपैथिक दवा की चर्चा करेंगे।

मुंहासों के अधिकतर मामले teenage में शुरू होते हैं और किसी-किसी को लम्बे समय तक सताते हैं। Oily skin वाले लोग खासकर इस समस्या से पीड़ित रहते हैं। हमारे त्वचा के पोर्स जिन्हे रोम छिद्र भी कहा जाता है वो अंदर तेल ग्रंथि वाले सेल्स से जुड़े रहते हैं जिससे Sebum Oil उन पोर्स में उत्पन्न होते हैं। Sebum का काम है हमारे ख़राब सेल्स को पोर्स से बाहर निकलने का और नए सेल्स को बनाने का। परन्तु hormonal imbalance या किसी और कारण से जब Sebum Oil ज्यादा बनने लगता है तब यह आयल पोर्स को बंद कर देते हैं जिस कारण से मुंहासे और दाने स्किन पर निकलने लगते हैं। गलत खान-पान, गलत आदत, खराब जीवनशैली, खराब कॉस्मेटिक्स के अधिक इस्तेमाल करने से, hard antibiotics के सेवन से मुहाँसे की समस्या हो जाती है। किसी-किसी को यह मुंहासे लगातार निकलते रहते हैं, पककर फूटते रहते हैं और यह क्रम लगातार चलता रहता है।

मुंहासे होने के कारण की अधिक चर्चा न करते हुए मैं डायरेक्ट होम्योपैथिक दवा की चर्चा करूँगा कि किस दवा के इस्तेमाल से मुहांसे, Acne की समस्या जड़ मूल से ठीक हो जाती है।

डॉ घोष का मत है कि किशोरियों अर्थात बालिकाओं के चेहरे पर मुहांसे निकलने पर उन्हें Calcarea Phos 30 दवा देनी चाहिए, परन्तु डॉ बी.आर.शंकरन का मत है कि किशोरियों को ऐसी स्थिति में magnesia mur 30 देनी चाहिए। परन्तु हम Calcarea Phos 30 सुबह, magnesia mur 30 दोपहर में और asterias rubens 30 शाम में देंगे। यहाँ बता दू कि asterias rubens सभी प्रकार के मुंहासों की उत्तम दवा है। विशेषकर युवावस्था में मुँहासे होने पर यही दवा देनी चाहिए। इन तीनो दवा के उपयोग से किशोरियों के चेहरे पर के मुहांसे ठीक हो जायेंगे, बार-बार मुहांसे बनने की टेन्डेन्सी खत्म हो जाएगी और जो दाग और गड्ढे बन हो गए हैं वो भी ठीक हो जायेंगे।

डॉ घोष का मत है कि किशोरों अर्थात बालकों के चेहरे पर मुहांसे निकलने पर उन्हें calcarea picrata 30 देनी चाहिए, परन्तु डॉ बी.आर.शंकरन का मत है कि किशोरों को ऐसी स्थिति में kali brom 30 देनी चाहिए। परन्तु हम calcarea picrata 30 सुबह, kali brom 30 दोपहर में और asterias rubens 30 शाम में देंगे। इन तीनो दवा के उपयोग से किशोरों के चेहरे पर के मुहांसे ठीक हो जायेंगे, बार-बार मुहांसे बनने की टेन्डेन्सी खत्म हो जाएगी और जो दाग और गड्ढे बन हो गए हैं वो भी ठीक हो जायेंगे।

अब कुछ लक्षण को देख लेते हैं-

Oophorinum 30 – अगर रजोनिवृत्ति अर्थात menopause के समय स्त्रियों के चेहरे पर मुंहासे हो रहे हैं तो यह दवा रामबाण दवा का काम करती है। इसकी 2 बून्द सुबह और शाम करीब 15-20 दिन ले लेने से मुंहासे की समस्या ठीक हो जाती है।

Streptococcinum 200 – यदि मुहाँसे सर्दी के दिनों में या अण्डे खाने के कारण हो जाते हों तो यह दवा लाभ करती है। इसकी 2 बून्द हफ्ते में 1 बार ले लेने से काम बन जाता है और ऐसी समस्या ठीक हो जाती है।

Pulsatilla 200 – यह दवा puberty के समय के किशोरियों पर अच्छा काम करता है जिनका मासिक में गड़बड़ी या मासिक में विलंब के कारण मुँहासे हो जाते हैं। यह दवा मासिक की अनियमितता या मासिक में किसी प्रकार की गड़बड़ी को तो ठीक करती ही है साथ में मुँहासे को भी ठीक करती है। ऐसे में Pulsatilla 200 की 2 बून्द हफ्ते में 1 बार ले लेने से समस्या ठीक हो जाती है।

Echinacea Q – इस दवा का लक्षण है कि आपका एक मुंहासा निकलता है वह ठीक होता है कि दूसरा उसके आस पास निकल जाता है। एक तरह की tendency बन जाती है ठीक होना और निकलते रहना। ऐसे लक्षण में Echinacea Q की 10 बून्द आधे कप पानी में डाल कर सुबह और शाम लें करीब 1 महीना, आपकी ऐसी शिकायत ठीक हो जाएगी।

Eugenia Q – यह दवा मुंहासे के लिए बहुत अच्छी है। इस दवा के 3 पॉइंट समझ ले। पहला hard, दूसरा some distance तीसरा pain. अर्थात इसका पिम्पल छूने से hard होता है उसमे पस नहीं होता, थोड़े दुरी पर पिम्पल निकलते हैं और छूने से दर्द करता है। ऐसे लक्षण पर Eugenia Q की 10 बून्द आधे कप पानी में डाल कर सुबह और शाम लें करीब 1 महीना, आपकी ऐसी शिकायत ठीक हो जाएगी।

Psorinum 200 – यह चेहरे पर निकलने वाले बड़े मुंहासों की मुख्य दवा है। यदि चाय-कॉफी पीने, मांस खाने से या मासिक धर्म के समय मुंहासों में वृद्धि हो जाती हो तो यही दवा लाभकर है। ऐसे में हफ्ते में 1 बार इस दवा की 2 बून्द लेने से समस्या ठीक हो जाती है।

Ledum pal 200 – किसी-किसी को बहुत अधिक छोटे-छोटे लाल दाने forehead और गाल पर निकलते हैं, जोकि भरे रहते हैं नार्मल मुंहासे से थोड़े अलग तरह के होते हैं तो ऐसे में Ledum pal 200 की 2 बून्द दिन में 1 बार कुछ दिन लिया जाए तो ऐसे मुंहासे, छोटे-छोटे लाल दाने पूरी तरह से ठीक हो जाते हैं।

Hepar Sulph 30 – अगर मुँहासे से सफ़ेद रंग का मवाद निकलता हो, मुँहासे में पस भर जाता हो उसमे दर्द भी रहता हो तो Hepar Sulph 30 की 2 बून्द सुबह-शाम लेने से ऐसी समस्या ठीक हो जाती है।

अंतिम दवा Berberis aquifolium Q – लक्षण के अनुसार आप किसी दवा का सेवन क्यों न करें इस दवा का इस्तेमाल उन दवा के साथ अवश्य करना है। इससे मुंहासे तो ठीक होते ही हैं चेहरे का रंग साफ़ होता है और दाग धब्बे भी ठीक हो जाते हैं। Berberis aquifolium Q की 10 बून्द आधे कप पानी में डाल कर दिन में 2 बार पीना है और चेहरे पर भी लगाना है। रोजाना इस्तेमाल से चेहरे का रंग साफ़ होने लगता है।

यहाँ मुंहासे को ठीक करने की कुछ दवाएं बताई गई है, लक्षणानुसार आप दवाओं का सेवन कर सकते हैं।

Ask A Doctor

किसी भी रोग को ठीक करने के लिए आप हमारे सुयोग्य होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर का consultancy fee 200 रूपए है। Fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षण के बारे में पुछा जायेगा और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और दवा लेने की विधि बताई जाएगी। पेमेंट आप Paytm या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं। इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर पे सम्पर्क करें - +919006242658 सम्पूर्ण जानकारी के लिए लिंक पे क्लिक करें।

Loading...
Leave A Reply

Your email address will not be published.

Open chat
पुराने रोग के इलाज के लिए संपर्क करें