ऐनीलीनम ( Anilinium Homeopathy In Hindi )

694

[ Aminobenzene ] – लिंग और अण्डकोष में बहुत ज्यादा दर्द हो और अण्डकोष फूल जाये तथा मूत्रनली की किसी जगह पर अर्बुद ( ट्यूमर ) हो जाये तो – इस दवा की परीक्षा करें। ये सब दवाएं न्यू-रेमेडीज के अन्तर्गत है और चिकित्सा में इनका बहुत थोड़ा व्यवहार होता है। ऐनीलीनम – coal-tar product है ; इससे मैजेंटा रंग तैयार होता है।

रोगी को अत्यधिक चक्कर आना और सिर दर्द होना इस औषधि का विशेष लक्षण है, चेहरा बैंगन के रंग जैसा नीला पड़ जाता है। लिंग (penis) तथा अण्डकोष (scrotum) में दर्द तथा सूजन आ जाती है। मूत्रपथ तथा मूत्रनलियों में अर्बुद (tumour) चरम रक्ताल्पता के साथ चर्म-विवर्णता (discolouration of skin) होंठ नीले, भूख नही लगती (anorexia) पाचन दोष । शरीर की त्वचा में खुजली होने लगती है। इन सब लक्षणों में ऐनीलीनम लाभ करता है।

सम्बन्ध – आर्सेनिक, एण्टिपाइरिन से तुलना कीजिए।

क्रम – 6 से 30 शक्ति।

Ask A Doctor

किसी भी रोग को ठीक करने के लिए आप हमारे सुयोग्य होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर का consultancy fee 200 रूपए है। Fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षण के बारे में पुछा जायेगा और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और दवा लेने की विधि बताई जाएगी। पेमेंट आप Paytm या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं। इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर पे सम्पर्क करें - +919006242658 सम्पूर्ण जानकारी के लिए लिंक पे क्लिक करें।

Loading...

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.