Ascities Treatment In Hindi – पेट में पानी

2,279

इस रोग में रोगी के पेट में पानी एकत्रित हो जाता है जो मूत्र आदि के द्वारा निकल नहीं पाता है । इस वजह से रोगी का पेट फूलता जाता है और सामान्य आकार से बड़ा हो जाता है । इस रोग में रोगी का मूत्र बन्द या कम हो जाता है, कब्ज रहती है, हृदय तेजी से धड़कता है और प्यास बहुत लगती हैं । साँस लेने में कष्ट होता है और सूजन आ जाती है । यह रोग मुख्य रूप से यकृत (लिवर) की खराबी, प्लीहा की खराबी और गुदों की खराबी के कारण होता है। इसके अलावा अन्य बीमारियों के उपसर्ग के रूप में भी यह रोग हो जाता है ।

कॉन्वल्यूलस आर्व 2x, 30- पेट में पानी भरता रहता है जो अंगुलियों का दबाव देने से मालूम हो जाता है, कब्ज बनी रहती है, बहुत भूख लगती है, रोगी कमजोर होता जाता है- इन लक्षणों में देनी चाहिये ।

एपोसाइनम Q, 200– रोग के साथ में पाकस्थली में उत्तेजना, पानी पीते ही वमन हो जाना, कीचड़ की भाँति का मूत्र होना, अतिसार हो, शरीर में किसी भी प्रकार का शोथ ही तो देनी चाहिये ।

सेनिसियो 30- जलोदर के कारण पेट बहुत कड़ा हो जाये, मूत्र लाल रंग का हो जो कभी कम और कभी अधिक मात्रा में ही, निम्नांगों में शोथ हो तो देनी चाहिये ।

एपिस मेल 30, 200- मूत्र अत्यधिक मात्रा में हो पर प्यास नहीं लगे, शरीर में स्थान-स्थान पर डंक मारने जैसा दर्द और जलन हो तो यह दवा बहुत लाभकारी है ।

आर्सेनिक 30, 200- रोगी कमजोर होता जाये, प्यास तो ज्यादा लगे पर पानी कम पीये, रात को ऐसा लगे कि साँस बंद होने वाली है, बेचैनी रहे, रोगी बिस्तर छोड़कर भागना चाहे तो देनी चाहिये ।

चायना 30, 200– यकृत या प्लीहा की बीमारी के कारण रोग हुआ हो, शोथ भी हो तो देनी चाहिये ।

सल्फर 30, 200- किसी भी चर्म-रोग के दब जाने के कारण रोग पैदा हो जाये, शरीर की त्वचा गंदी-सी लगे, चेहरे पर सहज ही पसीना आ जाये, नाड़ी तेज चले, रोगी को तन्द्रा बनी रहे, विना दर्द का अतिसार हो तो दें।

एसिड फ्लोर 6, 30– व्हिस्की पीने से रोग हुआ हो जिसमें यकृत कड़ा और बड़ा हो जाये तो लाभप्रद है ।

Ask A Doctor

किसी भी रोग को ठीक करने के लिए आप हमारे सुयोग्य होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर का consultancy fee 200 रूपए है। Fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षण के बारे में पुछा जायेगा और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और दवा लेने की विधि बताई जाएगी। पेमेंट आप Paytm या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं। इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर पे सम्पर्क करें - +919006242658 सम्पूर्ण जानकारी के लिए लिंक पे क्लिक करें।

Loading...
1 Comment
  1. Pardeep says

    Pat mein paani aur chest mein bhi paani

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

Open chat
पुराने रोग के इलाज के लिए संपर्क करें