होम्योपैथिक आई ड्रॉप्स [ Best Homeopathic Eye Drops In Hindi ]

0
713

आँखें दुनिया को देखने के लिए जरुरी है, इसकी देखभाल उसी तरह जरूरी है जितना शरीर के अन्य अंगों की देखभाल करना। आँखें हमारे Visual System का हिस्सा है जोकि हमें कुछ भी देखने में मदद करती है। आँखें लाइट को electrochemical impulses में परिवर्तित करती है और वह Impulses हमारे दिमाग तक पहुँचती है हमारी नसों के माध्यम से, और तब हमारा दिमाग बताता है कि हमने क्या देखा है। आज कल आँखों की बहुत सारी बीमारियां होने लगी है और ये समस्याएं आम होती जा रही है। इन समस्याओं में मोतियाबिंद, काला मोतियाबिंद, ग्लूकोमा, ट्रेकोमा, आँख आना आदि प्रमुख है। इनमे दृष्टि-दोष भी बहुत ज्यादा आम है। दूर दृष्टि-दोष और निकट दृष्टि-दोष आमतौर पर हर दस में से पांच लोगों को होने लगा है। इसके लिए आमतौर पर हमलोग चश्मे का प्रयोग करते है। होम्योपैथी में कई सारी ऐसी EYE Drops हैं जिनसे न केवल दृष्टि-दोष बल्कि मोतियाबिंद, काला मोतियाबिंद, ग्लूकोमा, ट्रेकोमा, आँख आना आदि समस्याओं में भी राहत मिलता है। यदि हमे कोई भी बीमारी नहीं है आँखों की तब भी हम कई सारी ऐसी होम्योपैथिक EYE Drops है जिनका प्रयोग कर सकते हैं जिससे आगे चलकर कोई भी समस्या न हो।

ये कुछ होम्योपैथिक EYE Drops हैं जिनका प्रयोग आप आँखों की विभिन्न समस्याओं में कर सकते हैं:-

SBL Cineraria Maritima 10% Eye Drops :- यह दवाई बहुत ही असरदार है आँखों की विभिन्न समस्याओं के लिए। इसमें कई सारी होम्योपैथिक दवाइयां मिली हुई है:-

Cineraria maritima, Glycerinum, Phenyl mercuric nitrate, Aqua distilled.

Cineraria maritima :- यह दवाई ग्लूकोमा, मोतियाबिंद के लिए बहुत ही असरदार दवाई है। यह दवाई ट्रेकोमा में भी बहुत ही काम आती है। यह आँखों की रौशनी को बढ़ाने में भी बहुत मदद करती है। बाकि दवाइयां भी इसी प्रकार आँखों की विभिन्न समस्याओं में काम आती है।

दवा लेने की विधि :- Cineraria Maritima Eye Drop की 2 बूँद दिन में तीन बार आँखों में डालनी है। इसका प्रयोग आप तीन महीने तक करें और आप की आखों की लगभग सारी समस्याएं ठीक हो जाएँगी चाहे वह ग्लूकोमा हो या मोतियाबिंद या फिर दृष्टि दोष। यह दवाई आपको किसी भी होम्योपैथिक दूकान पर 100 रुपए में आसानी से मिल जाएगी।

SBL Cineraria Maritima Euphrasia Eye Drops :- इसमें भी कई सारी होम्योपैथिक दवाइयां मिली हुई है जो निम्न है:-

Cineraria maritima, Euphrasia Officinalis, Calendula Officinalis, Kali Muriaticum, Calcarea Fluorica, Magnesia Carbonica, Silicea.

Cineraria maritima :- यह दवाई ग्लूकोमा, मोतियाबिंद के लिए बहुत ही असरदार दवाई है। यह दवाई ट्रेकोमा में भी बहुत ही काम आती है। यह आँखों की रौशनी को बढ़ाने में भी बहुत मदद करती है।

Euphrasia Officinalis :- यह दवाई आँख आने की समस्या के लिए बहुत ही असरदार है। यदि आपको आँख में इन्फेक्शन हो गया है या फिर आँखों से पानी बहुत आता है तो यह दवाई इस समस्या में बहुत काम आती है।

Calendula Officinalis :- यह दवाई आँख आने पर, आँखों में चोट लगने पर या आंख लाल होने पर भी यह दवाई बहुत ही असरदार है।

Kali Muriaticum :- यह दवाई आँखों की रौशनी को बढ़ाने में बहुत ही मददगार है।

Calcarea Fluorica :- यह दवाई ग्लूकोमा की समस्या में बहुत ही असरदार है।

Magnesia Carbonica :- यह दवाई दृष्टिदोष को कम करके आँखों की रौशनी को बढ़ाने में मददगार है।

Silicea :- आखों में सूर्य की रौशनी, जलन के लिए बहुत ही अच्छी दवाई है। आँखों में कुछ चले जाने पर भी यह दवाई काम आती है।

दवा लेने की विधि :- SBL Cineraria Maritima euphrasia Eye Drop की एक से दो बूँद आँखों में डालना है। यह काम आपको दिन में 3-6 बार करना है। अगर आपकी आँखे में सूजन हो, जलन हो रही हो, आखों से पानी आ रहा हो या आखें लाल हो गई हो तो दिन में छः बार डाले और अगर सामान्य दृष्टिदोष के लिए इसका प्रयोग करते है तो दिन में तीन बार भी डाल सकते है। यह दवाई आपको किसी भी होम्योपैथिक दूकान पर 115 रुपए में आसानी से मिल जाएगी।

Dr Willmar Schwabe Germany Cineraria Maritima Eye Drop :- यह दवाई विश्वप्रसिद्ध है मोतियाबिंद की समस्या के लिए। यह दवाई जर्मनी में बनती है और बहुत ही असरदार और लाभदायक है मोतियाबिंद की समस्या के लिए। इसमें Cineraria maritima डाली हुई है और साथ ही इसमें Alcohal भी है। यह दवाई आपको होम्योपैथिक दूकान पर 190 रुपए में मिल जाएगी।

दवा इस्तेमाल करने की विधि :- अगर आपके मोतियाबिंद की समस्या शुरुआती दौर में है तो यह दवाई पूरी तरह उसे ठीक करने में मददगार है और यदि आपका मोतियाबिंद पूरी तरह पक गया है तो भी यह दवाई मददगार है। इस दवाई के साथ आपको एक और दवाई का सेवन करना है मोतियाबिंद की समस्या से छुटकारे के लिए वह दवाई है :- Drox 33.

Drox 33 की 20 बूँद आधे कप पानी में डालकर पीना है, इसे दिन में तीन बार पीना है, और Dr Willmar Schwabe Germany Cineraria Maritima Eye Drop की दो बूँद दिन में तीन बार आँखों में डालना है। अगर आप इन दोनों दवाइयों का इस्तेमाल लगभग तीन महीने तक करते है तो बहुत हद तक मोतियाबिंद की समस्या से छुटकारा मिल जायेगा।

Dr. Reckeweg Cineraria Maritima Eye Drop :- यह दवाई भी जर्मनी से बनकर आती है और इसमें alcohol नहीं मिली होती जिस कारण यह दवाई आँखों के लिए सबसे अधिक लाभदायक मानी जाती है। इसमें निम्न होम्योपैथिक दवाइयां मिली हुई है:-

Cineraria maritima :- यह दवाई ग्लूकोमा, मोतियाबिंद के लिए बहुत ही असरदार दवाई है। यह दवाई ट्रेकोमा में भी बहुत ही काम आती है। यह आँखों की रौशनी को बढ़ाने में भी बहुत मदद करती है। यह D2 फॉर्म में होता है जिसमे बिलकुल भी Alcohol नहीं होती।

यह दवाई दोनों दृष्टिदोषों के लिए बहुत ही असरदार है, यदि आप कंप्यूटर पर बहुत काम करते है या मोबाइल पर बहुत समय देते है या फिर किताब बहुत पढ़ते हैं जिस कारण आपको यह समस्या हो गई है तो यह दवाई उसके लिए बहुत ही असरदार है। साथ ही यह दृष्टिदोष से पूर्व भी काम करती है अर्थात इस दवाई के प्रयोग से आपको दृष्टिदोष की समस्या नहीं होगी और अगर है तो वह भी दूर हो जाएगी। यह दवाई आपको 146 रुपए में होम्योपैथिक दूकान पर मिल जाएगी.

दवा इस्तेमाल की विधि :- Dr. Reckeweg Cineraria Maritima Eye Drop का प्रयोग आप हमेशा कर सकते हैं ताकि आँखों की समस्या न हो और अगर आपको कोई समस्या हो गई है जैसे मोतियाबिंद, ग्लूकोमा या दृष्टिदोष तो आप इसका प्रयोग लगभग छः महीने करे आपकी समस्या दूर हो जाएगी। इस drop को दिन में तीन बार आँखों में दो-दो बूँद डाले।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here