डिमेंशिया ( भूलने की बीमारी ) का होम्योपैथिक इलाज | Bhoolne Ki Bimari ka Homeopathic Medicine In Hindi

0 77

इस लेख में हम डिमेंशिया के लक्षण और उसकी कुछ मुख्य होम्योपैथिक दवा की चर्चा करेंगे।

डिमेंशिया कोई बीमारी नहीं बल्कि कई लक्षणों का रूप है जो दिमाग और याददास्त के क्षति से सम्बन्ध रखता है। Dementia शब्द ‘de’ मतलब without और ‘mentia’ मतलब mind से मिलकर बना है। जोड़ देंगे तो मतलब निकलेगा withoutmind

कई लोग डिमेंशिया को भूल जाने की परेशानी सोच कर इस बीमारी को छोटा समझते हैं और टाल देते हैं। कुछ लोग तो छोटी-छोटी बात भूल जाते हैं और घबरा जाते हैं कि कहीं मुझे डिमेंशिया तो नहीं हो गया। डिमेंशिया होना और कुछ-कुछ बातें भूल जाने में बहुत अंतर है।

उदाहरण के लिए क्या आपको लगता है कि आप आगे चलकर कभी अपना नाम तक भूल जायेंगे, ये प्रश्न मेरा उनके लिए है जो छोटी-मोटी चीजें भूल जाते हैं। आपका जवाब मुझे पता है कि नहीं ! पर डिमेंशिया से ग्रस्त व्यक्ति आगे की अवस्था में अपना ही नाम भूल जाते हैं।

डिमेंशिया पेशेंट के कुछ लक्षणों को समझते हैं :-

  • ज़रूरी चीजों को भूल जाना, खासकर हाल में हुई घटनाएँ (जैसे, नाश्ता करा या नहीं, घर की चाभी या मोबाइल रख कर भूल जाना)
  • छोटी-छोटी समस्याओं को भी न सुलझा पाना, दिमाग सोच नहीं सकता, दिमाग में जड़ता आ जाती है।
  • साधारण, रोज-मर्रे के काम करने में भी परेशानी महसूस करना
  • गलत किस्म के कपडे पहनना, कपड़े उलटे पहनना, शर्ट के बटन को सही से नहीं लगा पाना
  • यह भूल जाना कि तारीख क्या है, कौन सा महीना है, साल कौन सा है, व्यक्ति किस घर में हैं, किस शहर में हैं, किस देश में है।
  • नंबर जोड़ने और घटाने में भी परेशानी महसूस करना
  • बोलते या लिखते हुए गलत शब्द का प्रयोग करना, या शब्दों के अर्थ न समझ पाना, बीच में कुछ शब्द को छोड़ देना,
  • चीज़ों को अनुचित जगह पर रख छोडना (जैसे कि घडी को, या पर्स को फ्रिज में रख देना)
  • कुछ काम शुरू करना, फिर भूल जाना कि क्या करना चाहते थे, और बहुत कोशिश के बाद भी याद न कर पाना
  • अजीबोग़रीब बातें करना भद्दी भाषा इस्तेमाल करना, गाली देना, अश्लील हरकतें करना

ऐसे-ऐसे लक्षण डिमेंशिया पेशेंट में पाए जाते हैं, अब अधिक समय न लेते हुए हम होम्योपैथिक दवा की चर्चा करेंगे कि किस लक्षण में कौन सी दवा का उपयोग करना है।

सबसे पहली दवा जिसका सेवन हमें करना ही है, लक्षण मिले या न मिले इसे रोजाना हमें लेना है

Bacopa Monnieri Q – इसे Brahmi नाम से भी जाना जाता है। यह दवा हमारे दिमाग में बहुत अच्छा असर करती है, दिमाग के सेल को मजबूत कर हमारे मेमोरी पावर को बढ़ाने का काम करती है। स्मरण शक्ति का कम होना। चीजों को कही रख कर भूल जाना या किसी व्यक्ति को कुछ दे कर भूल जाना। भूलने के हर प्रकार के लक्षण इस दवा काम करती है। बच्चों का पढाई में मन नहीं लगना और परीक्षा के समय पढ़े हुए चीजों का भूल जाना जैसे लक्षण में भी Brahmi दवा काम करता है। यह मेमोरी पावर को बढ़ाने की बहुत ही उत्तम दवा है। तो इसका सेवन हमें करना ही है। 10 बून्द आधे कप पानी में डाल कर दिन में 3 बार पीना है।

अब लक्षण की तरह बढ़ते हैं :-

Anacardium 200 – ऐनाकार्डियम औषधि का स्मरण शक्ति पर प्रभाव पड़ता है। रोगिणी कभी पहचानती है कि यह उसका बच्चा है, कभी भूल जाती है और अपने बच्चे को पहचानती नहीं। होम्योपैथी के संपूर्ण मैटीरिया मैडिका में स्मृति-लोप के संबंध में ऐनाकार्डियम औषधि के समान दूसरी शायद ही कोई औषधि हो। जब स्मृति-लोप का लक्षण इतना प्रबल हो तब यह औषधि स्मृति को तो ठीक कर ही देती है, रोगी के अन्य लक्षणों को भी दूर कर देती है। स्मृति-लोप इतना हो जाता है कि वह अपने बच्चें को नहीं, अपने पिता को भी भूल जाती है। कहती है: यह बच्चा उसका बच्चा नहीं; यह पिता उसका पिता नहीं, यह पति उसका पति नहीं। ऐसे में Anacardium 200 की 2 बून्द रोजाना एक समय देना है, कुछ दिनों में ऐसी समस्या ठीक हो जाएगी।

Baryta Carb 200 – याद रखें युवकों की स्मरण शक्ति घट जाये तो Anacardium किन्तु वृद्धों की स्मरण शक्ति घट जाए तो Baryta Carb. वृद्ध-पुरुष बच्चों का-सा आचरण करने लगते हैं, स्मृति-शक्ति लुप्त हो जाती है, चलते हुए डगमगाते हैं, बच्चों का-सा स्वभाव हो जाता है। बैराइटा कार्ब का चरित्रगत-लक्षण यह है कि रोगी का सर्वांगीण विकास रुक जाता है। जब यह देखा जाय कि सत्तर वर्ष का व्यक्ति बच्चे की तरह आचरण कर रहा है, तब समझना चाहिये कि उसका विकास रुक गया है, उसे बैराइटा लाभ करेगा। ऐसे में Baryta Carb 200 की 2 बून्द रोजाना एक समय देना है, कुछ दिनों में ऐसी समस्या ठीक हो जाएगी।

Cannabis Indica 200 – इसका रोगी बोलते समय क्या बोलना है वही भूल जाता है। डॉ नैश एक स्त्री का उल्लेख करते हुए लिखते हैं कि उसे जलोदर था, हृदय की बीमारी भी थी। जब यह ठीक हुई तो उसका बोलना बन्द हो गया। वह एक वाक्य शुरू करती थी, परन्तु आधा वाक्य कह कर भूल जाती थी कि वह क्या कहना चाहती थी। इस असमर्थता के कारण वह चिल्लाने लगती थी। उसे इस औषधि को लगातार कई दिन तक दिया गया, वह ठीक हो गई। ऐसे लक्षण में आप Cannabis Indica 200 की 2 बून्द रोजाना एक समय देना है, कुछ दिनों में ऐसी समस्या ठीक हो जाएगी।

Medorrhinum 200 – इसमें नाम, सड़क, गली मोहल्ला, अपने घर का पता, बोलते या लिखते समय शब्द भूल जाना जैसे लक्षण दीखते हैं। ऐसे लक्षण में आप इस दवा की 200 पोटेंसी दो बून्द हफ्ते में 1 बार जीभ पर लिया करें। ऐसी समस्या ठीक हो जाएगी।

Lac caninum 200 – इसके लक्षण में नर्वस रहना, भूल जाना, कोई चीज खरीदना तो उसे घर ले जाने की याद न रहना, जहाँ की तहाँ छोड़कर चले आना। लिखने में भूल करना, लिखना कुछ है और लिख कुछ और ही देना। शब्दों का आखिरी अंश लिखने में भूल करना। निराशा और ऐसा समझना की उसकी बीमारी ठीक होने वाली नहीं। जरा सी बात में दुखी हो जाना। कल्पित सांप देखना इत्यादि में लैक कैनाइनम लाभदायक है। ऐसे लक्षण में आप Lac caninum 200 की 2 बून्द रोजाना एक समय देना है, कुछ दिनों में ऐसी समस्या ठीक हो जाएगी।

Glonoine 30 – अपने वर्षों पुराने निवास स्थान, गली-मुहल्ले आदि को भी भूल जाना, अपने मकान का नंबर तक याद न रहना आदि लक्षणों में हितकर है। प्राय: सिर में रक्त का संचय अधिक हो जाने पर ऐसी स्थिति उत्पन्न होती है, और ऐसे में Glonoine 30 की 2 बून्द सुबह-शाम लेने से ऐसी समस्या ठीक हो जाती है।

Kali Brom 200 या Thuja 200 – नींद से उठते समय भुलक्कड़पन की स्थिति और धीरे-धीरे समय बीतने के साथ ही स्मृति का लौट आना – इन लक्षणों में यह दोनों दवा हितकर है ।

Ask A Doctor

किसी भी रोग को ठीक करने के लिए आप हमारे सुयोग्य होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर का consultancy fee 200 रूपए है। Fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षण के बारे में पुछा जायेगा और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और दवा लेने की विधि बताई जाएगी। पेमेंट आप Paytm या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं। इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर पे सम्पर्क करें - +919006242658 सम्पूर्ण जानकारी के लिए लिंक पे क्लिक करें।

Loading...
Leave A Reply

Your email address will not be published.