Browsing Category

घरेलू नुस्खे

मुंह और जीभ के छाले दूर करने के लिए घरेलू और आयुर्वेदिक इलाज

मुंह के छाले का कारण (Muh ke chale ka karan) मुंह में छाले अजीर्ण तथा कब्ज के कारण हो जाते हैं। प्रायः देखा गया है कि कब्ज के ठीक होते ही मुंह के छाले भी ठीक हो जाते हैं। कई बार…

हिचकी आने के कारण और उपचार – Hichki Aane Per Kya Kare

हिचकी का कारण हिचकियां तब आती हैं, जब फ्रेमिक स्नायु में उत्तेजना उत्पन्न होने के कारण 'डायफ्राम' नामक पेशी सिकुड़ती है। कई बार मिर्च-मसाले खाने या कंठ में अटक जाने के कारण आमाशय…

Natural Home Remedies For Fainting In Hindi

बेहोशी का कारण किसी कारणवश बेहोशी छा जाने की हालत को मूर्च्छा कहते हैं। जब मनुष्य को सुख-दु:ख आदि का अनुभव करने की शक्ति नहीं रहती और चलते फिरते या बैठे-बैठे अचानक आंशिक रूप से वह…

मिर्गी रोग का आयुर्वेदिक उपचार – मिर्गी रोग का इलाज

मिर्गी रोग का कारण मिर्गी का रोग नकारात्मक भावों के कारण उत्पन्न होता है, जैसे अधिक चिंता करना, शोक में अधिक समय तक डूबे रहना, भयग्रस्त रहना, क्रोध करना, ईर्ष्या तथा द्वेष करना…

बहरापन का कारण, लक्षण, घरेलू और आयुर्वेदिक इलाज

बहरापन का कारण डॉक्टरों की खोजों के अनुसार बहरेपन (Deafness) का रोग शारीरिक दुर्बलता तथा स्नायु संबंधी गड़बड़ी के कारण होता है। वैसे आमतौर पर सर्दी लगने, कान में तीव्र से तीव्र…

बार बार चक्कर आने का घरेलू और आयुर्वेदिक उपचार

चक्कर क्यों आते हैं? साधारणतया चक्कर (Giddiness) तब आते हैं, जब स्त्री या पुरुष के दिमाग में खून कम मात्रा में पहुंचता है। कई बार रक्तचाप (ब्लड प्रेशर) में अचानक कमी आ जाती है,…

नाक से खून बहने का कारण, लक्षण और घरेलू, आयुर्वेदिक इलाज

नाक से खून बहने का कारण नाक में अचानक चोट लगने, दिमाग में चोट लगने, खून के भार में कोई बढ़ोतरी होने, पुराना जुकाम बिगड़ जाने, शरीर में खून की कमी, तेज बुखार आदि के कारण साधारणतया…

टांसिल को जड़ से खत्म करने का रामबाण घरेलू और आयुर्वेदिक इलाज

टांसिल का कारण गले के प्रवेश द्वार के दोनों तरफ मांस की एक गांठ होती हैं, जो लसिका ग्रंथि के समान होती है, इसे टांसिल कहते हैं। टांसिल बढ़ने का मुख्य कारण मैदा, चावल, आलू, चीनी,…

गले के सूजन, दर्द दूर करने का घरेलू और आयुर्वेदिक इलाज

गले के सूजन का कारण (Gale ke sujan ka karan) साधारणतया अधिक धूम्रपान करने, शराब पीने, ठंडे पदार्थों का अधिक सेवन करने, ठंडी चीजों के तुरन्त बाद गर्म चीजें खाने, पेट में बहुत…

कान में दर्द को दूर भगाने का 20 बेहतरीन घरेलू इलाज

कान में दर्द के कारण कान को बार-बार सींक या सलाई से कुरेदने, सर्दी लगने, कान में कोई चीज (पानी, कीड़ा आदि) प्रवेश कर जाने, चोट लगने, कान के भीतर मैल जम जाने या कान में फुंसी निकल…

सिर दर्द के 50 रामबाण घरेलू और आयुर्वेदिक उपचार

सिर दर्द के कारण सिर दर्द कोई अलग प्रकार का रोग नहीं है, बल्कि अनेक रोगों का लक्षण है। इसलिए सिर दर्द के विभिन्न कारण माने जाते हैं। उदाहरण के लिए बुखार, सर्दी लगने, जुकाम, गर्मी…

हृदय रोग का कारण और रामबाण घरेलू, आयुर्वेदिक उपचार

हृदय रोग के कारण वायु अधिक बनने (वात रोग), उपदंश, अधिक धूम्रपान तथा शराब पीना, अधिक समय तक दिमाग में उद्वेग तथा चिंता, रक्तवाहिनियों की बीमारी, वृक्करोग, गठिया तथा मोटापा आदि…

हृदय की धड़कन बढ़ने का घरेलू और आयुर्वेदिक उपचार – धड़कन तेज होना

धड़कन बढ़ने के कारण हृदय में एक निश्चित लय के साथ धड़कन होती है। यही धड़कन यदि किसी कारणवश बढ़ जाती है, तो यह दिल धड़कने की बीमारी बन जाती है। इसके कारण बड़ी बेचैनी रहने लगती है।…

टीबी T.B. (tuberculosis) रोग का रामबाण घरेलू और आयुर्वेदिक उपचार

टीबी का कारण यह एक ऐसी बीमारी है, जो धीरे-धीरे बढ़ती है। साधारणतया लोग तपेदिक के नाम से भयभीत हो जाते हैं। इस रोग के कीटाणु विरामचिह्न के आकार के होते हैं। ये रोगाणु रोग लगे…

दमा का 50 रामबाण घरेलू और आयुर्वेदिक उपचार – अस्थमा का सफल उपचार

दमा रोग के कारण यह श्वास संस्थान का एक भयंकर रोग है। इसमें सांस नली में सूजन या उसमें कफ जमा हो जाने कारण सांस लेने में बहुत कठिनाई होती है। इसका दौरा प्राय: सुबह के समय पड़ता है।…

हृदय रोग के कारण, लक्षण और रोग निवारण में सहायक उपाय

हृदय रोग गत सौ वर्ष पूर्व घातक रोगों की सूची में छठे क्रम पर था, लेकिन अब यह क्रम एक पर आ गया है। इसकी वजह यह है कि आजकल की मशीनी रफ़्तार वाली जिंदगी में बढ़ रहे मानसिक तनाव, दूषित…

हिस्टीरिया के कारण, लक्षण और रोग निवारण में सहायक उपाय

आयुर्वेद में इसे 'योषापस्मार' के नाम से जाना जाता है। योषा शब्द स्त्रीवाचक है और अपस्मार मिर्गी का घोतक। यह रोग अविवाहित स्त्रियों को अधिक होता है। इस रोग में मिर्गी के समान दौरे…

खांसी को जड़ से मिटाने का अचूक घरेलू और आयुर्वेदिक दवा

खांसी का कारण खांसी को आयुर्वेद में 'कास' कहते हैं। यह पांच प्रकार की मानी जाती है - वात, पित्त, कफ के बिगड़ने से तथा कृमियों से और क्षय-रोग से उत्पन्न होने के कारण। चिकित्सकों का…

जुकाम से राहत का रामबाण घरेलू और आयुर्वेदिक उपचार

जुकाम क्यों होता है? यह रोग वैसे तो ऋतु के बदलने से होता है, लेकिन प्रायः सभी ऋतुओं में हो जाता है। यह दो ऋतुओं के बीच के दिनों में अधिक होता है। इसके अलावा दूषित वायु मंडल, धूल…

बुखार का घरेलू और आयुर्वेदिक उपचार – बार बार बुखार आना

बुखार होने का कारण (Bukhar hone ka karan ) अधिक गर्मी, सर्दी, परिश्रम आदि के कारण साधारण ज्वर (बुखार) आ जाता है। इस दशा में शरीर का तापक्रम बढ़ जाता है। शरीर का सामान्य तापक्रम…