Chest Pain – छाती में दर्द

0
1718

बक्छस्थल  के बाएं स्तन  के नींचे पंजरे में सूई चुभने जैसा, डंक मारने तथा अकड़न जैसा  एक प्रकार का दर्द होता है  जिसे पसलियों का स्नायुशूल कहा जाता है । बरसात या शीत रितू में ठंढ लगने के कारण या डायफ्रॉम के वात के कारण या किसी भी अन्य कारण से क्यों न हो Rananculus Bulbosus 3x, 6x दिन में तीन बार देने पर निश्चित रूप से आराम होता है ।

Ask A Doctor

किसी भी रोग को ठीक करने के लिए आप हमारे सुयोग्य होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर का consultancy fee 200 रूपए है। Fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षण के बारे में पुछा जायेगा और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और दवा लेने की विधि बताई जाएगी। पेमेंट आप Paytm या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं। इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर पे सम्पर्क करें - +919006242658 सम्पूर्ण जानकारी के लिए लिंक पे क्लिक करें।

यह दाहिने की अपेक्छा  बाएं तरफ के दर्द में ज्यादा कारगर ढंग से कार्य करता है । छाती के दाहिने भाग में पंजरे के सातवें रिब्स में Liver के नीचे दर्द होने पर Carduus Marianus 3x, 6x 30 देने से आराम ओत है ।

Loading...
Previous articleVomiting Treatment – उलटी का इलाज़
Next articleगुदास्थि (Coccyx) में दर्द का इलाज
जनसाधारण के लिये यह वेबसाइट बहुत फायदेमंद है, क्योंकि डॉ G.P Singh ने अपने दीर्घकालीन अनुभवों को सहज व सरल भाषा शैली में अभिव्यक्त किया है। इस सुन्दर प्रस्तुति के लिए वेबसाइट निर्माता भी बधाई के पात्र हैं । अगर होमियोपैथी, घरेलू और आयुर्वेदिक इलाज के सभी पोस्ट को रेगुलर प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे फेसबुक पेज को अवश्य like करें। Like करने के लिए Facebook Like लिंक पर क्लिक करें। याद रखें जहां Allopathy हो बेअसर वहाँ Homeopathy करे असर।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here