Chronic Anxiety, Depression Aur Fear Ka Homeopathic Medicine

1,327

आजकल कुछ सवाल मेरे पास अधिक आ रहे हैं जोकि Depression से सम्बन्धित है। सवाल जैसे रोगी Depression से पीड़ित है। थोड़ी-थोड़ी बात पे वो डर जाता है। घर से बाहर निकलने का मन नहीं करता। उन्हें ऐसा लगता है कि लोग उनकी तरफ देख रहे हैं, उनके बारे में आपस में बात कर रहे हैं। अपने करियर को लेकर बहुत चिंचित रहना। पढाई में मन नहीं लगना, कुछ भी सोचते रहना, दिमाग में कुछ भी ख्याल का बार-बार आना। रोगी चाहता है कि वो उसके बारे में न सोचे, फिर भी वो उस अजीब से ख्याल के बारे में सोचता ही रहता है। कोई अगर थोड़ा मजाक करे तो सहन न होना, तुरंत लड़ाई कर लेना, Anxiety, Depression Aur Fear से निकल न पाना।

ऐसे में कुछ होम्योपैथिक दवा के बारे में बताने जा रहा हूँ जोकि बहुत फायदेमंद दवा है और इसे लेने से आपका मन और दिमाग शांत रहेगा।

पहली दवा है Rescue Remedy Drops, इस दवा की 30 पोटेंसी की दो बून्द सुबह-शाम जीभ पर टपकाया करें।

दूसरी दवा है ignatia 200, इसे 200 पोटेंसी में लेना है। इसकी दो बून्द जीभ पर सिर्फ रात में टपकाना है।

तीसरी दवा है passiflora incarnata q, इस दवा को मदर टिंचर में लेना है। इस दवा की 20 बून्द आधे कप पानी में डालकर दिन में तीन बार लेना है।

तीनो दवा के सेवन से आपको बहुत अच्छे रिजल्ट मिलेंगे।

होमियोपैथी दवा से सम्बंधित कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न और उसके उत्तर :

प्रश्न : दो होमियोपैथी दवा के लेने में कितने समय का अंतर होना चाहिए ?

उत्तर : दो दवा के बीच में 10 से 15 मिनट का अंतर जरूर रखें।

प्रश्न : होम्योपैथिक दवा खाना खाने से पहले लें या बाद में ?

उत्तर : खाना खाने के एक घंटे पहले या एक घंटे बाद ले सकते हैं, इसमें पेट खाली होना जरुरी रहता है तभी दवा अच्छे से काम करता है।

प्रश्न : क्या एलोपैथी दवा के साथ होम्योपैथिक दवा ले सकते हैं ?

उत्तर : जी हाँ बिलकुल ले सकते हैं, इसका कोई नुकसान नहीं।

प्रश्न : कितने दिनों तक इन तीनो दवा का सेवन करना होगा ?

उत्तर : इसका सेवन कम से कम दो महीने तक जरूर करें।

प्रश्न : इस दवा को ऐसे ही लेना है या पानी के साथ ?

उत्तर : ध्यान दें, जितनी dilution वाली दवा है अर्थात, ३०, २००, 1M पोटेंसी में आती है उसे सीधा दो बून्द जीभ पे लेना होता है और मदर टिंचर को पानी के साथ लेना होता है।

प्रश्न : होम्योपैथिक दवा लेते समय किस चीजों से परहेज करना चाहिए ?

उत्तर : निम्बू, प्याज, आचार, लहसुन सिरका का सेवन कम से कम करें।

प्रश्न : इस दवा का कोई साइड इफेक्ट तो नहीं ?

उत्तर : बिलकुल नहीं, बिना संकोच के इस दवा का सेवन कर सकते हैं।

प्रश्न : कौन सी कंपनी का होम्योपैथिक दवा सबसे अच्छी रहती है ?

उत्तर : आप wsi, sbl, reckeweg इन तीनों में से किसी का भी इस्तेमाल कर सकते हैं, तीनों अच्छी कंपनी है।

Ask A Doctor

किसी भी रोग को ठीक करने के लिए आप हमारे सुयोग्य होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर का consultancy fee 200 रूपए है। Fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षण के बारे में पुछा जायेगा और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और दवा लेने की विधि बताई जाएगी। पेमेंट आप Paytm या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं। इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर पे सम्पर्क करें - +919006242658 सम्पूर्ण जानकारी के लिए लिंक पे क्लिक करें।

Loading...
2 Comments
  1. Devinder Rai says

    Sir मेरी वाइफ पिछले 8-10 महीने से चलने-फिरने से।मोहताज़ हो गई कारण जहाँ lady का।pvt पार्ट है वहाँ दाई और।फुलाव है करीब 4 इंच।लंबा दर्द के साथ और हिप्स के ऊपर पहले बहुत कठोर बड़ी गांठ थी फिर वह खिसककर थोड़ी नीचे आ।गई दर्द।इस कदर है कि उठना बैठना मुश्किल है। एक बार होम्योपैथिक से ठीक हुई फिर 3- 4 माहीने के बाद पुनः दर्द।हुआ अब पलंग पे चढ़ना मुश्किल, कभी सीधी टांग नहीं होती बहुत मुश्किल से रट।चिल्लाते टांगे ऊपर करते है फिर।एडजस्ट होने के बाद।टांगे।मोड़कर ही सोती है। सोती की हाय हाय करती है सनरी रात। पैरों में बहुत सूजन है। x ray हिप रिप्लेसमेंट कहता है। और नसों के झुंड उलझे लगते हैं।
    I have great faith in homeopathy and based on your articles, suggested to so many people and surprisingly they have been fully cured.
    She is suffering fom last one year.
    Medicines tried in her:
    Arnica 30, Causticum, Variyata, Kali Latifolia, Karege tum nitricum 30 along with calcarea Florida.
    Some homeopath suggests Formic Acid in 1:9 ratio twice daily.

    Requested kindly to suggest a suitable remedy. We shall be much obliged.
    Thanks and regards.
    Devinder Rai
    New Delhi

    1. Dr G.P.Singh says

      You please write us age, colour, and figure and physique of the patient only then actual medicine can be selected. either patient is fatty or line and thin. If patient is fair in colour, fatty and flabby body the you may try Graphytis 200 at interval of 5 days and Belladona 30 daily in morning or if she is blakish or syamly in colour and dyalu,gusail, and always weeping nature the you may apply Staphesagria 30 daily and Pulsatila 30 daily in morning. May God bless you. Write the details and then medicines will be re selected again.

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.