Enlarged Liver Treatment In Hindi – यकृत का बढ़ जाना

2,028

छाती के दाँये ओर वाली पसलियों के नीचे की हड्डी के समीप से ऊपरी पेट के अग्रखण्ड के नीचे के स्थान तक यकृत नामक अंग होता है । यकृत में खून ज्यादा हो जाने अथवा हृदय या फेफड़े के रोग होने अथवा अन्य विविध कारणों से यकृत बढ़ जाता है । इसी दशा को यकृत का बढ़ जाना कहा जाता है ।

एब्सिन्थियम Q, 6, 30– यकृत व तिल्ली बढ़े हुये प्रतीत हों, ऐसा लगे जैसे यकृत फूल गया है, पेट में अत्यधिक वायु संचित हो, वातज शूल रहे आदि लक्षणों में दें ।

नक्सवोमिका 6, 30- यकृत फूलकर बढ़ गया हो और कठोर हो गया हो, यकृत में दर्द जो कभी-कभी शूल की तरह हो, साथ में बुखार भी रहे तो इसे दें । गरिष्ठ पदार्थों का अधिक सेवन करने वाले, नशा करने वाले व जुलाब का नियमित व्यवहार करने वाले व्यक्तियों को यह रोग होने पर अधिक लाभप्रद हैं ।

मर्कसॉल 6, 30- यकृत कठोर तथा बड़ा हो जाना, यकृत का प्रदाह, यकृत में दर्द होना, रात में कष्ट बढ़ना, दाँयी करवट से सो न पाना, शोथ, पीलिया आदि लक्षणों में दें ।

चेलिडोनियम 6, 30- यकृत काफी बढ़ गया हो, यकृत में दर्द हो, साथ में दाँये कन्धे के नीचे स्कैपुला हड्डी के नीचे भी निरन्तर दर्द रहे, स्वाद में तीतापन हो, जीभ के बीच में गाढ़ा पीला मैल व किनारे लाल रहें, पाकाशय व पीठ में सुई गड़ने जैसा दर्द हो, साँस लेते में दाँयी ओर दर्द हो तो यह दवा देनी चाहिये ।

मैग्नीशिया म्यूर 30, 200– यकृत का बढ़ जाना, यकृत में दर्द व सूजन, दर्द यकृत वाले स्थान से पीठ की रीढ़ तक व पाकाशय के ऊपरी भाग तक पहुँच जाये, दर्द वाली जगह को छूने पर या दाँयी करवट से सोने पर या कुछ खाने पर दर्द बढ़ जाता हो तो दें ।

ऑरम मेट 3x, 30,200- हृदय-रोग के साथ यकृत काफी बढ़ गया हो, उसमें रक्त अधिक हो गया हो, यकृत में दर्द, पीलिया, मुख से सड़नयुक्त गन्ध आये, दाँये भाग में जलन व काटने-फाड़ने जैसा दर्द हो तों इस दवा का व्यवहार करें ।

कल्केरिया आर्स 30– बच्चों के यकृत व प्लीहा के बढ़ने पर इस दवा को देना चाहिये ।

Ask A Doctor

किसी भी रोग को ठीक करने के लिए आप हमारे सुयोग्य होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर का consultancy fee 200 रूपए है। Fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षण के बारे में पुछा जायेगा और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और दवा लेने की विधि बताई जाएगी। पेमेंट आप Paytm या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं। इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर पे सम्पर्क करें - +919006242658 सम्पूर्ण जानकारी के लिए लिंक पे क्लिक करें।

Loading...
2 Comments
  1. anil bhaardwaj says

    leevr pr soojn , khsi sookhi uthna , pet me rsoli maenr 2.5 mm ki hona bhookh nhi lgna in sbhi beemariyo me homopaithik jrmi ki koon si achchhi dva hai uska kya name hai pesent ki aayu 43 vrs hai femel

    1. Dr G.P.Singh says

      Aap rogi ka rang tatha, hight likhen taki sahi dawa ka selection kiya ja sake. tatkal fayada ke liye aap Nux vomica 30 rat men sote samay ek boond len tatha Lycopodium 200 subah men len. pura laxan likhane ke bad punah dawa ka selection kar batlaya ja sakega.

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.