हिमालय सेप्टिलिन सिरप और सेप्टिलिन टैबलेट के लाभ और नुकसान

8
2175

हिमालय सेप्टिलिन सिरप और हिमालय सेप्टिलिन टैबलेट एक आयुर्वेदिक औषधि है जो संक्रमण जैसे रोगों में लाभकारी होता है। साथ ही साथ रोग-प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाता है। यह औषधि हिमालय ड्रग कंपनी के द्वारा बनाई गई है।

हिमालय सेप्टिलिन सिरप की जानकारी

विभिन्न रोगों में प्रयोग किए जाने वाला हिमालय सेप्टिलिन सिरप आयुर्वेद के सिद्धांतों पर बनाया गया है। यह दवा न सिर्फ लिवर पर बेहतर प्रभाव डालती है, बल्कि एंटीबॉडी के स्तर को भी बढाने में सहायता करती है। इस दवा की खास बात यह है कि यह गले में जमे कफ़ और ख़राश को कम करता है। साथ ही साथ यह दवा एंटीऑक्सीडेंट के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है जो सेहत को दुरुस्त रखने में लाभकारी होता है।

Loading...

नोट – इस पोस्ट के माध्यम से दवा के बारे में जो इनफार्मेशन दी गई हैं वो उसमे मिलाए गए जड़ी-बूटियों के आधार और रिसर्च करने के बाद ही दी गयी हैं। हम इस प्रोडक्ट का निजी फायदे के लिए प्रचार नहीं कर रहे हैं। हम यह भी दावा नहीं करते हैं कि यह दवा आपका रोग एकदम ठीक कर देगी। यह दवा आपके लिए फायदेमंद हो भी सकती है और नहीं भी। इस दवा के बारे में जो लाभ बताये गए हैं वो दवा के फार्मूलेशन और ये मानते हुए कि सभी द्रव्य उत्तम क्वालिटी के हैं, के आधार पर बताए गए हैं। बाजार में इसी फॉर्मूले की अन्य फार्मेसियों द्वारा निर्मित दवाएं उपलब्ध हैं। इस पोस्ट पर जो इनफार्मेशन दी गयी हैं उसका एकमात्र उद्देश्य दवा के बारे में जानकारी देना है।

हिमालय सेप्टिलिन टैबलेट की जानकारी

हिमालय सेप्टिलिन टैबलेट, हिमालय कंपनी के द्वारा निर्मित एक आयुर्वेदिक दवा है। यह हर्बल दवा शरीर को रोग प्रतिरोधक बनाती है। इस दवा की खास बात यह है कि यह दवा स्वास्थ्य को बेहतर बनाये रखने में मदद करती है। साथ ही साथ इसके अन्य गुण शरीर के मज़बूती प्रदान करती है।

हिमालय सेप्टिलिन सिरप के लाभ और उपयोग करने का तरीका

हिमालय सेप्टिलिन सिरप इन बीमारियों के इलाज में काम आती है:-

  • यह शरीर में इंफेक्शन को जल्दी ठीक करने में लाभकारी होता है।
  • यह शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है।
  • यह शरीर को स्वास्थ्य बनाये रखने में मदद करता है।
  • इसमें बुखार एवं ज्वर को कम करने के भी गुण हैं।
  • यह चकत्ता एवं सूजन कम करने वाली दवा है।

हिमालय सेप्टिलिन के इस्तेमाल करने का तरीका

  • डॉक्टर द्वारा निर्देशित रूप में लिया जाना चाहिए।
  • इसे पानी के साथ लें।
  • इसे नियमित रूप से दिन में दो बार एक कुछ महीनों तक लें।

हिमालय सेप्टिलिन टैबलेट के लाभ और उपयोग करने के तरीके

हिमालय सेप्टिलिन टैबलेट इन बीमारियों के इलाज में काम आती है:-

  • हिमालय सेप्टिलिन टैबलेट को नियमित रूप से लेने से शरीर के रक्षातंत्र को मज़बूती मिलती है।
  • यह दवा शरीर को रोग प्रतिरोधक बनाने मदद करती है।
  • यह दवा सभी उम्र के लोगों के लिए लाभकारी मानी जाती है।
  • इस दवा की एक ख़ास बात है कि यह शरीर में सफेद ब्लड सेल्स को बढ़ाती है, जिससे शरीर में किसी भी प्रकार का इंफेक्शन नहीं फैलता।
  • यह दवा एलर्जी से निजात पाने में भी मदद करती है।

हिमालय सेप्टिलिन के इस्तेमाल करने का तरीका

  • शुरुआती दिनों में इसे दिन में दो बार लेना चाहिए, यदि यह असरदार रहे तो महीने-दो महीने बाद इसे दिन में एक बार लें।
  • इस दवा को लेने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर ले लें।

सेप्टिलिन सिरप के घटक द्रव्य

  • त्रिकटु
  • शुद्ध गुग्गुल
  • मंजिष्ठा
  • गुडूची
  • अमला
  • मुलेठी
  • महारास्नादि क्वाथ

सेप्टिलिन टैबलेट के घटक द्रव्य

  • त्रिकटु
  • शुद्ध गुग्गुल
  • मंजिष्ठा
  • गुडूची
  • अमला
  • मुलेठी
  • शंख भष्म
  • महारास्नादि क्वाथ

सेप्टिलिन टैबलेट और सिरप के मुख्य काम

  • ज्वर को कम करने में सहायता करता है
  • इंफेक्शन ख़त्म करता है
  • एंटी-वायरल होता है
  • एंटीऑक्सीडेंट होता है
  • रोग प्रतिरोधक शक्ति को बढ़ता है

हिमालय सेप्टिलिन के दुष्प्रभाव

इस दवा को अधिकतर लोगों में सुरक्षित एवं ठीक से सहन करने योग्य माना गया है। रिसर्च के अनुसार इस दवा का कोई दुष्प्रभाव नहीं होता है।

नोट – दवाई का खुराक रोगी की उम्र और स्वास्थ्य को देखकर दिया जाना चाहिए। सेप्टिलिन के प्रयोग करने से पहले इसके उचित खुराक के बारे में डॉक्टर से विमर्श करना उचित रहेगा। ध्यान रखें, बिना किसी बीमारी या परेशानी के इस दवा का सेवन न करें।

हिमालय सेप्टिलिन सिरप और टैबलेट से जुड़े कुछ सवाल एवं उसके हल

सवाल: क्या इस दवा का उपयोग स्तनपान के दौरान करना उचित है?

हल: इस बारे में डॉक्टर से सलाह जरूर लें एवं किसी जानकार व्यक्ति से पहले इसकी अच्छी तरह पुष्टि कर लें।

सवाल: क्या इस दवा का उपयोग गर्भवती महिलाएं कर सकती हैं?

हल: इस बारे में डॉक्टर से सलाह जरूर लें एवं किसी जानकार से पहले इसकी अच्छी तरह पुष्टि कर लें।

सवाल: क्या यह दवा आदत या लत बन सकती है?

हल: आपको बता दें कि कोई भी दवा आदत या लत नहीं बन सकती है जब तक उसे सही मात्रा में लिया जाता है।

सवाल: क्या इस दवा का सेवन एकदम से रोका जा सकता है?

हल: कुछ दवाओं का सेवन करना एकदम से नहीं रोका जा सकता। इससे शरीर पर उल्टा रिएक्शन होने का ख़तरा बढ़ जाता है। इस बारे में डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

सवाल: इस दवा का उपयोग किस वक्त किया जाना सही रहेगा?

हल: इस दवा का उपयोग भोजन के बाद ही लेना सही रहता है। इस बारे में डॉक्टर का विमर्श लेना अतिआवश्यक माना जाता है।

सवाल: इस दवा का उपयोग दिन में कितनी बार करना चाहिए?

हल: आपको बता दें कि हिमालय सेप्टिलिन सिरप या टैबलेट का उपयोग दिन में कम से कम दो बार लेना चाहिए। लेकिन इस बारे में डॉक्टर का विमर्श लेना अतिआवश्यक माना जाता है।

सवाल: अपनी हालात में सुधार लाने के लिए हमें इस दवा का उपयोग कितने समय तक करना चाहिए?

हल: आमतौर पर आपके हालत में सुधार कुछ हफ्तों में ही होना शुरू हो जाता है। लेकिन इस बारे में अधिक जानकारी पाने के लिए डॉक्टर का विमर्श लेना अतिआवश्यक माना जाता है।

Ask A Doctor

किसी भी रोग को ठीक करने के लिए आप हमारे सुयोग्य होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर का consultancy fee 200 रूपए है। Fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षण के बारे में पुछा जायेगा और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और दवा लेने की विधि बताई जाएगी। पेमेंट आप Paytm या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं। इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर पे सम्पर्क करें - +919006242658 सम्पूर्ण जानकारी के लिए लिंक पे क्लिक करें।

  • दवा का नाम – हिमालय सेप्टिलिन सिरप और सेप्टिलिन टैबलेट
  • वजन – 200 ML
  • दाम – हिमालय सेप्टिलिन सिरप ( रुपये 100 मात्र -) और सेप्टिलिन टैबलेट (125 मात्र )
Loading...

8 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here