नेल फंगल इंफेक्शन का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Nail Fungus In Hindi ]

0
735

हमारे शरीर के अन्य अंगों की तरह नाखून भी एक अंग है और नाखून हमारे शरीर की स्वच्छता को दर्शाता है। नाखून के माध्यम से हमे यह भी पता चलता है कि हमारा शरीर कितना स्वस्थ है। नाखून में फंगल इन्फेक्शन बहुत ही आम समस्या है। जब हमारे शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता कम हो जाती है तब हमारे नाखून में फंगल इन्फेक्शन हो जाता है। इस फंगल इन्फेक्शन को मेडिकल भाषा में Onychomycosis कहा जाता है। इस समस्या में नाखून हल्के पीले हो जाते हैं और कमजोर होकर टूटने लगते हैं।

नाखून में फंगल इन्फेक्शन होने के कारण

  1. जब नाखून में फफूंद लग जाते हैं तो यह फंगल इन्फेक्शन होता है।
  2. फंगस कई प्रकार के होते हैं तो जिनमे से कई सारे नाखून पर हमला करते है।
  3. शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता के कम होने पर भी यह इन्फेक्शन हो जाता है।
Loading...

नाखून में फंगल इन्फेक्शन होने के लक्षण

शुरुआत में नाखून में खुजली महसूस होती है, फिर धीरे-धीरे नाखून पतले होने लग जाते हैं और नाखून पीले होने लगते है। अगर नाखून पीले होने लगे है और तब भी आपने ध्यान नहीं दिया और दवाई नहीं ली तो नाखून भूरे होने लगेंगे और टूटने लगेंगे। नाखून में हल्की-हल्की धारियां दिखने लगेंगी और वह टूट कर आधा हो जायेगा। उसमे एक समय के बाद मवाद भी निकल सकता है। नाखून के आस-पास के हिस्से में कालापन हो सकता है।

नाखून के फंगल इन्फेक्शन में अच्छी होम्योपैथिक दवाइयाँ

Antimonium Crudum 30 Ch :- यह दवाई नाखून के फंगल इन्फेक्शन के लिए रामबाण दवाई की तरह काम करती है। अगर आपके नाखून पीले पड़ जाते है और टूटने लगते है साथ ही खुजली होती है तो यह दवाई बहुत ही असरदार है। इसकी दो बूँद दिन में तीन बार पीनी है।

Arsenic Album 200 CH :- अगर आपको नाखून में फंगल इन्फेक्शन होता है और बहुत जलन होती है साथ ही बहुत खुजली भी होती है साथ ही नाखून के चारों तरफ की त्वचा काली पड़ रही है तो यह दवाई बहुत ही लाभदायक है। इसकी दो बूँद सुबह एक बार पीनी है।

Acid Nitricum 30 CH :- यदि आपको पसीना बहुत अधिक आता है जिसके कारण नाखून में फंगल इन्फेक्शन हो गया है जिससे आपको नाखून में चुभन महसूस होगी जिस कारण नाखून पतले होकर टूटेंगे भी। अगर नाखून हल्के सफेद और हल्के पीले है तो भी यह दवाई बहुत लाभदायक है। इसकी दो-दो बूँद दिन में तीन बार पीनी है।

Bio-Combination 20 :- यह दवाई शरीर में कहीं भी फंगल इन्फेक्शन हो तो उसके लिए बहुत ही अच्छी है। यदि आपको चर्म रोग हो गया है तब भी यह दवाई बहुत ही असरदार है। इसकी आपको 6-6 गोली दिन में तीन बार चूसनी है।

Topi Azadirachta Cream :- यह दवाई नीम से बनी होती है और नीम किसी भी फंगल इन्फेक्शन या बैक्टीरिया के लिए लाभदायक होती है। इस क्रीम को आपको दिन में तीन बार लगाना है नाखून पर। इसे लगाने के लिए आप पहले नाखून को अच्छे से साफ कर लें फिर लगाए।

Topi Heal cream :- इसमें Calendula mother tincture डला हुआ है जोकि फंगल इन्फेक्शन के लिए बहुत ही असरदार है। इसे लगाने के लिए भी नाखून साफ कर लें और दिन में तीन बार लगाएं। Topi Azadirachta Cream लगाने के 15-20 मिनट बाद इसेलगाएं।

Ask A Doctor

किसी भी रोग को ठीक करने के लिए आप हमारे सुयोग्य होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर का consultancy fee 200 रूपए है। Fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षण के बारे में पुछा जायेगा और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और दवा लेने की विधि बताई जाएगी। पेमेंट आप Paytm या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं। इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर पे सम्पर्क करें - +919006242658 सम्पूर्ण जानकारी के लिए लिंक पे क्लिक करें।

इन सभी दवाइयों का तब तक प्रयोग करें जब तक नाखून पूरी तरह ठीक न हो जाये। यह सभी दवाइयाँ नाखून के फंगल इन्फेक्शन को ठीक करने के लिए बहुत ही अच्छी दवाइयाँ हैं।

Loading...