माजून अजाराकी के फायदे और नुकसान [ Majun Azaraqi Uses, Benefits, Side Effects In Hindi ]

0
946
माजून अजाराकी – यह एक यूनानी दवाई है। जिन के निर्माता हमदर्द हैं। यह दवाई तन्त्रिका और नर्वस सिस्टम से जुड़ी हुई बीमारियों के इलाज के लिए प्रयोग में लाई जाती है। यह सिफलिस के इलाज में भी लाभदायक साबित होती है। इसमें एनाल्जेसिक, एन्टी भड़काऊ, तन्त्रिका उत्तेजक, हृदय उत्तेजक, और एफरोडायसिक क्रियाएं हैं। इसका इस्तेमाल enuresis – बिस्तर गीला करना, मूत्र रोक न पाना, मूत्र असंतोष और न्यूरोजेनिक मूत्राशय से संबंधित अन्य कार्यों में भी किया जाता है। यह यूनानी दवाई गर्मी से राहत प्रदान करती है।
दवा का नाम है माजून अजाराकी।
Loading...
माजून अजाराकी दवा की कीमत : 120 रुपये।

माजून अजाराकी की सामग्री :-

  • Azaraqi (Kuchla or Poison Nut) – Strychnos Nux-Vomica detoxified seeds = 20 grams
  • Berg Gaozaban – Hyssopus officinalis leaf = 15 grams
  • Katira Gond – Astragalus Gummifer Gum = 12 grams
  • Maghz Chilgoza (Pine Nuts) – Pinus Gerardiana kernel = 12 grams
  • Narjeel (sea coconut) – Lodoicea Maldivica fruit pulp=12 grams
  • Ustukhuddus – Lavandula stoechas flower = 12 grams
  • Amla Muqashsher – Emblica officinalis Gaertn crushed fruit = 9 grams
  • Dana Heel Khurd – (Elaichi – Cardamom) Elettaria cardamomum seed = 9 grams
  • Halela Siyah – Terminalia chebula unripe fruit = 9 grams
  • Safed Chandan (White sandalwood) – Santalum album wood powder = 9 grams
  • Shaqaqul – Pastinaca Secacul = 9 grams
  • Zaranbad – Curcuma zedoaria root = 9 grams
  • Ood Hindi – Aquilaria agallocha fungus = 4 ½ grams
  • Qaranfal – Caryophyllus Aromaticus bud = 4 ½ grams
  • Asl – Honey = 438 grams

 माजून अजाराकी के औषधीय गुण

  •  Nervine stimulant
  • Cardiac stimulant
  • Analgesic
  • Anti-inflammatory
  • Urinary bladder tonic
  • Anti-gout
  • Antiepileptic
  • Anticonvulsant
  • Aphrodisiac

माजून अजाराकी तैयार करने की विधि:

माजून अजाराकी बनाने के लिए सबसे पहले आप को एक सफूफ तैयार करना होगा। सफूफ बनाने के लिए इसमें जितनी भी सामग्रियों का उपयोग हुआ है उन्हें लेकर बारीक पीस ले साथ ही माजून अजाराकी को भी बारीक दाने के बराबर पीस लें, और इन सबका पाउडर बना लें। फिर इन दोनों सफूफ को अच्छे से एक दूसरे में मिला लें। इसके बाद एक syrup तैयार करें। syrup के लिए आपको शहद को हल्का गर्म कर फिर इस सफूफ को शहद में मिला दें। इस सफूफ को ठंडा होने के लिए एक बर्नी में रख दें और उसे कुछ देर के लिए preserve करें।

माजून अजाराकी का सेवन

माजून अजाराकी का सेवन आप सुबह के नाश्ते के 2 या 3 घंटे बाद, या फिर रात के खाने के 2 घंटे के बाद कर सकते हैं, क्योंकि यह समय इस दवा के सेवन का सबसे उचित समय है। इसके अतिरिक्त आप इसे ठीक सोने से पहले भी खा सकते है।
माजून अजाराकी का सेवन बालिग व्यक्ति प्रति दिन में 3 से 7 ग्राम तक कर सकता है। परंतु इस बात का ध्यान रखें कि आप अधिक से अधिक इसका सेवन 14 ग्राम तक कर सकते हैं। इससे अधिक सेवन आप के स्वास्थ को नुकसान पहुँचा सकता है। इस दवाई से छोटे बच्चों को दूर रखें। आप इसे हल्के गर्म दूध में मिला कर पियें।

माजून अजाराकी के फायदे

माजून अजाराकी के बहुत से लाभ है जो इस प्रकार हैं :-
  • लकवा की शिकायत को दूर करने में यह महत्वपूर्ण है।
  • यह असाबी कमजोरी के लिए बहुत लाभदायक है। असाबी कमजोरी अर्थात शरीर मे दर्द, शरीर के अंगों का ठीक तरह से काम ना करना, कंपकंपी चढ़ना, जोड़ों में लगातार दर्द उठना, अंगों के हिलने से दर्द होना, या फिर चलने में तकलीफ़ के लिए भी इस दवा का प्रयोग किया जाता है।
  • यदि आपके शरीर मे किसी अंग में सूजन चढ़ गई है तो यह दवाई सूजन को कम करने में मदद करती है।
  • जिस व्यक्ति को गैस की शिकायत है तो वह भी इस का उपयोग कर के  गैस की शिकायत से छुटकारा पा सकता है।
  • यह गठिया की तकलीफ को भी दूर करता है।
  • अगर आप मूत्र रोग से पीड़ित हैं तो उसमें भी इसका उपयोग लाभदायक है।
  • माजून अजाराकी, पक्षाघात की शिकायत को भी दूर करता है।
  • चेहरे के पक्षाघात के लिए भी यह दवाई सहायक है।
  • इस दवाई का उपयोग सर्दियों के कारण हुए जुकाम के लिए भी किया जाता है जो अत्यधिक कमजोर नर्वस सिस्टम के लोगों जैसे बच्चे और बूढ़ों में अधिक दिखाई पड़ती है।
  • इस दवाई की तासीर गर्म होती है, इसलिए इसके उपयोग से शरीर मे गर्मी रहती है। यह सर्दी के दिनों में भी उपयोगी है।
  • यदि आप दुर्बलता से पीड़ित है तो इस के उपयोग से मदद मिलेगी।
  • यह लिंग की वृद्धि के लिए भी लाभदायक है।
  • यदि किसी को Low Libido की शिकायत है तो उसमें भी यह दवाई सहायक है।
  • माजून अजाराकी की खराब शुक्राणु कोशिका को सुधारने में भी लाभकारी है।
  • झटके की शिकायत में भी यह दवा बहुत लाभकारी है।

 माजून अजाराकी में सावधानी और दुष्प्रभाव

  • अगर देखा जाए तो माजून अजाराकी के कोई भी दुष्प्रभाव नहीं है लेकिन कुछ लोगों में इसके दुष्प्रभाव नजर आते हैं।
  • गर्भवती महिला को इस दवा के सेवन से बचना चाहिए।
  • आप स्तनपान कराने वाली महिला हैं तो इस के प्रयोग से बचें
  • यदि आप को कोई चिंता सता रही है या आप गंभीर चिंतित हैं तो इस दवा के सेवन से बचें।
  • यदि आपको चक्कर की शिकायत है तो इस के सेवन से बचें।
  • अगर आप दिल के मरीज है या दिल मे जलन की शिकायत है तो भी इस दवा का प्रयोग ना करें।
  • यदि किसी व्यक्ति को थोड़े-थोड़े समय मे थकान की शिकायत है तो वह भी इस दवा से बचें।

Ask A Doctor

किसी भी रोग को ठीक करने के लिए आप हमारे सुयोग्य होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर का consultancy fee 200 रूपए है। Fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षण के बारे में पुछा जायेगा और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और दवा लेने की विधि बताई जाएगी। पेमेंट आप Paytm या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं। इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर पे सम्पर्क करें - +919006242658

 अगर आप को इस दवा के सेवन से कुछ भी opposite reaction दिखाई पड़ते हैं तो तुरंत अपने चिकित्सक की सलाह लें, हो सके तो इस दवा का उपयोग अपने चिकित्सक से सलाह लेने के बाद ही कीजिये।
Loading...
SHARE
Previous articleB&T SKIN CARE BATHING BAR [ होम्योपैथिक साबुन ]
Next articleहब्बे अजाराकी के फायदे और नुकसान [ Habbe Azaraqi Uses, Benefits, Side Effects In Hindi ]
जनसाधारण के लिये यह वेबसाइट बहुत फायदेमंद है, क्योंकि डॉ G.P Singh ने अपने दीर्घकालीन अनुभवों को सहज व सरल भाषा शैली में अभिव्यक्त किया है। इस सुन्दर प्रस्तुति के लिए वेबसाइट निर्माता भी बधाई के पात्र हैं । अगर होमियोपैथी, घरेलू और आयुर्वेदिक इलाज के सभी पोस्ट को रेगुलर प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे फेसबुक पेज को अवश्य like करें। Like करने के लिए Facebook Like लिंक पर क्लिक करें। याद रखें जहां Allopathy हो बेअसर वहाँ Homeopathy करे असर।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here