Reckeweg R10 In Hindi [ मासिक धर्म (Menopause) की जर्मन होम्योपैथिक दवाई ]

811

मासिक धर्म सामान्यतः 12 से 14 की उम्र तक महिलाओं को शुरू हो जाती है और जब महिलाएं 45-52 के बीच में होती है तो धीरे-धीरे मासिक धर्म बंद हो जाती है। 45 से 52 की उम्र में जो मासिक धर्म होता है उन्हें Menopause कहा जाता है। जब आपकी उम्र 45-52 के बीच हो और आपको एक साल तक मासिक धर्म न हुआ हो तो समझना चाहिए कि आपके मासिक धर्म खत्म हो चुके है पूरी तरह। 45 से 50 की उम्र में कभी मासिक धर्म होता है कभी नहीं इसी स्थिति को Menopause कहा जाता है।

Menopause के लक्षण

  • Menopause में शारीरिक व मानसिक दोनों प्रकार के तनावों का सामना करना पड़ता है।
  • Menopause में कभी मासिक धर्म बिल्कुल बंद हो जाते है और कभी होने लगते है। मासिक धर्म अनियमित रहते है। इस दौरान हार्मोन्स में परिवर्तन होता है जिससे शुरुआत में सिर दर्द होता है, शरीर में गर्मी लगने लगती है, त्वचा में रूखापन होने लगता है, इसमें वजन भी बढ़ने लगता है, रात के समय पसीना भी बहुत आने लगता है, Menopause के वक्त दिल की धड़कने बढ़ जाती है। शरीर में हर समय सनसनी सी महसूस होगी, आपके जोड़ो में दर्द बहुत अधिक होगा। Menopause में मानसिक स्थिति में भी बदलाव आ जाता है, वह अधिक चिड़चिड़े हो जाते है, ठीक से नींद नहीं ले पाते, तनाव की समस्या भी हो सकती है।

Menopause के लिए जर्मन होम्योपैथिक दवाई

अगर आपकी उम्र 45-52 के बीच है और आपके उपरोक्त सभी लक्षण दिख रहे है तो इसके लिए होम्योपैथिक में एक दवाई है जिसके सेवन से आप ठीक हो जायेंगे, यह दवाई है:-

Dr Reckeweg R10 :- यह दवाई जर्मनी में बनी है और बहुत ही असरदार है Menopause की समस्या के लिए। इसमें कई सारी होम्योपैथिक दवाईयाँ मिली है जिनकी सहायता से ये दवाई Menopause सम्बन्धी लक्षणों को ठीक करने में मदगार है। ये दवाईयाँ निम्न है:-

Acid Sulph D4, Cimicifuga D4, Lachea D12, Sanguinaria D12, Sepia D4.

Acid Sulph D4 :- यदि आप शारीरिक तौर पर बहुत कमजोर है और आपकी उम्र अधिक है, साथ ही अगर आपके मासिक धर्म आने बंद हो गए है, कभी होते है और कभी नहीं और आपको Menopause के लक्षणों का सामना करना पड़ रहा है तो यह दवाई इन सभी समस्याओं के लिए बहुत ही असरदार है।

Cimicifuga D4 :- मासिक धर्म कम होने पर जब हार्मोन्स में परिवर्तन आते हैं और शरीर में उनकी वजह से जो भी परिवर्तन होता है उसके लिए ये दवाई असरदार है। अगर आपके शरीर में या कमर में दर्द रहता है तो यह दवाई बहुत ही कारगर है।

Sanguinaria D12 :- यह दवाई मासिक धर्म की अनियमितता के लिए असरदार है, यदि आपको मानसिक तनाव अधिक होने लगा है, आप चिड़चिड़े हो गए है या आपका सिर दर्द रहता है तो यह दवाई बहुत ही फायदेमंद है।

Sepia D4 :- यदि आप बहुत चिड़चिड़े हो गए है और आंतरिक तौर पर बहुत घुट रहे है, मासिक धर्म भी अनियमित है और शरीर में दर्द रहता है तो यह दवाई इन सभी समस्याओं के लिए असरदार है।

R10 का सेवन करने की विधि :- अगर आपकी उम्र 45-52 के बीच है तो आधे कप पानी में R10 की दस बूँद डालकर पीनी है। इसका सेवन दिन में तीन बार करें। यह दवाई आपको लगभग छः महीने पीना है। अगर आपके लक्षण ठीक होने लगे तो बाद में आपको इसका सेवन दो बार करने लगना है। यह दवाई आपको होम्योपैथिक दूकान पर 220 रुपए में मिल जाएगी।

Ask A Doctor

किसी भी रोग को ठीक करने के लिए आप हमारे सुयोग्य होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर का consultancy fee 200 रूपए है। Fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षण के बारे में पुछा जायेगा और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और दवा लेने की विधि बताई जाएगी। पेमेंट आप Paytm या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं। इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर पे सम्पर्क करें - +919006242658 सम्पूर्ण जानकारी के लिए लिंक पे क्लिक करें।

Loading...

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

Open chat
1
💬 Need help?
Hello 👋
Can we help you?