Reckeweg r5 ( Stomach Drops ) In Hindi [ रेकवेग R5 ]

7,140

इस पोस्ट में हम Reckeweg R5 मेडिसिन के बारे में जानेंगे। यह मेडिसिन हमारे पेट से सम्बंधित बीमारियों के लिए है और Stomach and Digestion Drops के नाम से भी जानी जाती है। यहाँ इस मेडिसिन का विस्तार से चर्चा करेंगे और जानेंगे कि किन लक्षणों में इसका उपयोग करना है और इसके कम्पोनेंट्स क्या-क्या हैं।

पेट में किसी भी तरह की समस्या हो, जलन होती हो, घाव हो गया हो, पेट में अल्सर हो, एसिडिटी की समस्या हो, खट्टे डकार का आना, पेट फूलना, उबकाई आते रहना, हार्ट में जलन होना, बदहजमी, अफारा इत्यादि समस्याओं का निवारण Reckeweg R5 द्वारा किया जाता है।

Reckeweg R5 में पाए जाने वाले तत्त्व : Anacardium D6, Argentum nitricum D6, Arsenicum album D4, Belladonna D4, Carbo vegetabilis D8, Chamomilla D 2, Chelidonium D 3, Lycopodium D5, Nux vomica D4, Scrophularia nodosa D1.

रेकवेग R5 में डाले गए हर दवा का पेट की समस्या को ठीक करने में अपना एक विशेष स्थान है और इसके बारे में समझने की आवश्यकता भी है, तो आइये समझते हैं :-

Anacardium – वैसे यह मेडिसिन पेट के हर तरह की बीमारी में काम आती है परन्तु इसका एक खास लक्षण यह है कि खाना खाने के बाद पेट की समस्या कम हो जाया करती है, और मध्य रात्रि के बाद बढ़ जाया करती है – ऐसे में में यह दवा बहुत लाभ करती है।

Argentum nitricum – बार-बार लूज मोशन होना, घबराहट होने से भी लैट्रिन जाने की हाजत का बन जाना, हरे रंग का दस्त होना – ऐसे में यह दवा लाभ करती है।

Arsenicum album – पेट में घाव, गैस्टिक अल्सर, पेट में जलन, दस्त में यह दवा बहुत अच्छा काम करती है।

Belladonna – जब बार-बार उबकाई आने जैसा महसूस हो तो इस मेडिसिन का उपयोग अच्छा रहता है।

Carbo vegetabilis – इसमें पेट बहुत ज्यादा फूल जाता है, गैस की समस्या रहती है, डकारें आती हैं, पेट में अल्सर हो जाती है ऐसे में यह मेडिसिन अच्छा काम करती है।

Chamomilla – इस दवा में रोगी में पेट की समस्या के साथ-साथ चिड़चिड़ापन रहता है। पेट फूल जाता है और हल्का दर्द भी रहता है। ऐसे में यह दवा उपयोगी रहती है।

Chelidonium – यह मेडिसिन लिवर और गाल ब्लैडर पर बहुत अच्छा असर करती है। पित्त की समस्या या लिवर और गाल ब्लैडर के कारण पेट में कोई भी परेशानी हो तो इस दवा का उपयोग सर्वोत्तम रहता है।

Lycopodium – आंतों की समस्या, पेट में मरोड़ उठना, पेट दर्द, कब्ज, पेट में गैस बनना, मिचली आना इत्यादि लक्षणों में यह मेडिसिन दिया जाता। है

Nux vomica – तम्बाकू या किसी भी प्रकार की नशीली पदार्थ का सेवन करने से होने वाले पेट की समस्या में यह दवा बहुत अच्छा असर करती है।

Scrophularia nodosa – गैस्टिक में जब पेट में बहुत ज्यादा कसाव महसूस हो, मरोड़ के साथ पेट दर्द हो और कुछ खा लेने के बाद आराम मिल जाए तो यह मेडिसिन अच्छा काम करती है।

रेकवेग R5 की लेने की विधि और मात्रा

( Doses of Reckeweg R5 )

इस मेडिसिन की 10 से 15 बून्द आधे कप पानी में दिन में 3 बार खाना खाने के एक घंटे बाद लेना है। इसका मूल्य 220 रूपए है और इसे किसी भी होम्योपैथिक स्टोर से प्राप्त किया जा सकता है।

रेकवेग R5 का कोई भी साइड इफेक्ट्स नहीं है, तो इसका सेवन निःसंकोच किया जा सकता है।

Ask A Doctor

किसी भी रोग को ठीक करने के लिए आप हमारे सुयोग्य होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर का consultancy fee 200 रूपए है। Fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षण के बारे में पुछा जायेगा और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और दवा लेने की विधि बताई जाएगी। पेमेंट आप Paytm या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं। इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर पे सम्पर्क करें - +919006242658 सम्पूर्ण जानकारी के लिए लिंक पे क्लिक करें।

Loading...

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

Open chat
1
💬 Need help?
Hello 👋
Can we help you?