Reckeweg R77 ( Anti Smoking ) in Hindi [ धूम्रपान छोड़ने का होम्योपैथिक दवा ]

0
197

धूम्रपान स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है, यह हमे कई जगह लिखा दिख जायेगा, यहाँ तक की सिगरेट के डिब्बे पर भी यह लिखा रहता है। फिर भी लोग सिगरेट पीना नहीं छोड़ते। धूम्रपान केवल हमारे लिए ही नहीं हमारे आस-पास के लोगों, हमारे परिवार के लिए भी हानिकारक होता है। कई लोग ऐसे है जो सिगरेट की इस बुरी लत को छोड़ना चाहते हैं पर लत लगने के कारण छोड़ नहीं पाते। होम्योपैथिक में धूम्रपान की आदत को छुड़ाने के लिए एक Drop है जोकि सिगरेट की बुरी आदत को छुड़ाने में मददगार हो सकती है।

जब हम सिगरेट पीना शुरू करते हैं तो शुरू-शुरू में यह बहुत ही अच्छा लगता है, और धीरे-धीरे हमे इसके नशे की आदत लग जाती है और हम चाहते हुए भी यह आदत छुड़ा नहीं पाते। अगर आप किसी तरह छोड़ भी देते हैं सिगरेट पीना तो इसके बहुत अजीबोगरीब प्रभाव हमे दिमाग और शरीर पर दिखने लगते हैं।

इसके प्रमुख लक्षणों में सबसे प्रमुख है सिगरेट की तलब, आपको बार-बार मन करेगा की कही से आपको एक सिगरेट मिल जाये, क्योंकि यह एक नशीला पदार्थ है तो इसका असर सीधा दिमाग पर होता है। इसके बाद आपका सिर दर्द होना, चिड़चिड़ाहट होना, उलटी जैसा लगना, गैस की समस्या होना, नसों में खून की गति बढ़ना आदि कई समस्याएं सामने आती है। होम्योपैथिक में इस समस्या से निपटने के लिए एक दवाई है जो धूम्रपान छोड़ना चाहने वालो के लिए बहुत ही लाभदायक है।

Dr. Reckeweg R77 :- इसके सेवन से आप आसानी से धूम्रपान की आदत को छोड़ सकते हैं और इससे आपको इन लक्षणों का सामना भी नहीं करना पड़ता मतलब आप इस दवाई के सेवन से आसानी से धूम्रपान की आदत छोड़ सकते हैं। यह एकमात्र ऐसी दवा है जो बिना किसी Side Effect के धूम्रपान छोड़ने में मदद करती है। यह जर्मन के डॉ Reckeweg की दवाई है। इसमें कई सारी होम्योपैथिक दवाइयां मिली हुई है जोकि निम्न है:-

Agaricus D5, Echinacea Angustifolia D10, Natrium Chloratum D2, Robinia D6, Tabacum D4

Agaricus D5 :- अगर आप किसी लत को छोड़ना चाहते हैं तो यह दवाई बहुत ही असरदार है इसके लिए। सिगरेट छोड़ने के बाद जो उल्टी और गैस की समस्या होती है इससे आपको वह समस्या भी नहीं होती।

Echinacea Angustifolia D10 :- जब आप सिगरेट का सेवन करते हैं तो शरीर में बहुत सारा Toxin जमा हो जाता है, यह दवाई शरीर से उन टोक्सिन को निकालने में मदद करती है। इस दवाई के सेवन से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है।

Natrium Chloratum D2 :- सिगरेट पीने पर दिल बहुत तेजी से धड़कता है इसी तरह जब आप सिगरेट छोड़ते है तब भी दिल की धड़कन बहुत बढ़ जाती है। यह दवाई दिल के धड़कने की गति को ठीक करती है। यह घबराहट को भी कम करती है।

Robinia D6 :- सिगरेट छोड़ने पर कभी-कभी बहुत डकारें आने लगती है और गैस की समस्या हो जाती है, यह दवाई इस समस्या को नहीं होने देती।

Tabacum D4 :- यदि आपको तम्बाकू की भी तलब है और उसे भी छोड़ना चाहते हैं तो यह दवाई इसमें मददगार है।

R77 इस्तेमाल करने की विधि :- एक-चौथाई कई पानी में R77 की 15 से 20 बूँद डालकर इसे पीना है, इसका सेवन दिन में तीन बार करना है। इस दवाई का सेवन आपको दो महीने करना है और इसका असर आपको पहले महीने से ही दिखने लगेगा। जब आपकी तलब बिलकुल खत्म हो जाये तब भी आपको इस दवाई का सेवन एक से दो महीने और करना है। ताकि फिर कभी आपको धूम्रपान की आदत न लगे। इस दवाई के बहुत ही अच्छे परिणाम देखने को मिले है। इसे अपने दोस्तों और परिवार वालो को भी दे ताकि वह भी इस बुरी आदत से निकल सके। इस दवाई का असर पूरी तरह तभी होगा जब आपने मन बना लिया हो धूम्रपान छोड़ने का, इच्छा शक्ति बहुत ही आवश्यक है। यह दवाई आपको 220 रुपए में किसी भी होम्योपैथिक दुकान पर आसानी से मिल जाएगी।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here