SBL Liv-T Liver Tonic In Hindi – एसबीएल लिव टी सीरप के लाभ, फायदे, कीमत, खुराक और जानकारी

0 509

SBL Liv-T Syrup का हिंदी नाम एसबीएल लिव टी सीरप या लिवर टॉनिक के नाम से भी जाना जाता है।

SBL Liv-T Syrup के गुण

  • किस रूप में उपलब्ध है – सिरप
  • वजन – 250 (ग्राम)
  • आयाम – 4.7 (सेमी) x 4.7 (सेमी) x 12.7 (सेमी)
  • कीमत – 90 रुपए

SBL Liv-T Syrup के मुख्य कार्य – फैटी लीवर, पीलिया, हेपेटाइटिस, एसिडिटी और कब्ज को ठीक करने में मदद करता है।

Liv-T Syrup के बारे में जानकारी

एसबीएल लिव टी लिवर टॉनिक विशेष रूप से बैक्टीरिया और वायरल संक्रमण, दवाओं, शराब और रसायनों के कारण होने वाले विभिन्न लिवर की समस्या को ठीक करने के लिए तैयार किया गया है। लिव-टी लिवर टॉनिक लिवर सेल्स को फिर से एक्टिवेट करता है, लिवर को टोन-अप करता है, लिवर से दूषित पदार्थों को निकालता है, पित्त के प्रवाह को बढ़ावा देता है, भूख को बढ़ाता है और पाचन प्रक्रिया को मजबूत करता है और इस प्रकार अच्छे स्वास्थ्य को पुनः स्थापित करने में मदद करता है। लिवर के सभी समस्या का रामबाण दवा है।

Liv-T Syrup का इस्तेमाल किन बिमारियों में करना चाहिए ?

  • हेपेटाइटिस, लिवर सिरोसिस, फैटी लिवर, लिवर का कम काम करना, पीलिया, भूख न लगना।
  • लिवर और पित्ताशय की कमजोरी में भी उपयोगी है।

Liv-T Syrup में मिलाये गए दवाएं :-

  1. Carduus Marianus
  2. Chelidonium Majus
  3. Andrographis Paniculata
  4. Hydrastis Canadensis
  5. Taraxacum
  6. Podophyllum Peltatum
  7. Ipecacuanha

Liv-T Syrup में मिलाये गए दवाओं के बारे में समझते हैं –

Carduus Marianus : यह दवा पित्ताशय को स्वस्थ बनाता है। लिवर में दर्द, पीलिया की समस्या पर काम करता है।

Chelidonium Majus : यह पीलिया को ठीक करने की बहुत अच्छी दवा है। लिवर को मजबूती प्रदान करता है, पित्त प्रणाली को अच्छा करता है।

Andrographis Paniculata (Kalmegh) : यह एंटी-इंफ्लेमेटरी और इम्युनिटी बढ़ाने की दवा है, लिवर को प्रोटेक्ट करता है। लिवर से सम्बंधित हर रोग को अच्छा करता है। बुखार को ठीक करने में भी अच्छा काम करता है।

Hydrastis Canadensis : लिवर क्षेत्र में दर्द, जलन को ठीक करता है। पेट के जलन और कब्ज को अच्छा करता है।

Taraxacum : फैटी लिवर, गैस्ट्रिक के कारण सिरदर्द, मितली, जीभ पर सफ़ेद लेप, पीलिया से राहत प्रदान करता है।

Podophyllum Peltatum : लीवर क्षेत्र में दर्द, बवासीर, हाइपो-गैस्ट्रिक दर्द, बार-बार लैट्रिन लगना, पीलिया की प्रवृत्ति को रोकता है।

Ipecacuanha : यह दवा मुख्य रूप से मतली और उल्टी से राहत प्रदान करता है।

Liv-T Syrup की खुराक

वयस्क : खाना खाने से पहले 2 चम्मच, दिन में 3-4 बार।

नियम और शर्तें

होम्योपैथिक उत्पादों के कई उपयोग हैं और लक्षण समानता के आधार पर लिया जाना चाहिए। परिणाम स्थितियों के आधार पर भिन्न हो सकते हैं। अगर आप Liv-T Syrup का सेवन करना चाहते हैं तो अपने चिकित्सक से अवश्य परामर्श कर लें।

Ask A Doctor

किसी भी रोग को ठीक करने के लिए आप हमारे सुयोग्य होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर का consultancy fee 200 रूपए है। Fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षण के बारे में पुछा जायेगा और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और दवा लेने की विधि बताई जाएगी। पेमेंट आप Paytm या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं। इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर पे सम्पर्क करें - +919006242658 सम्पूर्ण जानकारी के लिए लिंक पे क्लिक करें।

Loading...
Leave A Reply

Your email address will not be published.