वैनेडियम [ Vanadium Metallicum Benefits In Hindi ]

929

इस दवा की क्रिया है ऑक्सीजन देना और रक्त के टॉक्सिन ( दूषित पदार्थ ) को नष्ट करना, इसलिए सारे क्षयकारी रोगों में उपयोगी है। इससे लिवर व लिवर धमनी की दशा परिवर्त्तित होकर क्रमशः ख़राब होती रहने पर फायदा होगा। इनके अलावा – भूख न लगना, पाकस्थली का प्रदाह, पेशाब में एल्बुमेन, कास्ट्स व रक्त, सारे अंग या एक अंग में कम्पन, सिर चकराना, हिस्टीरिया व उदासीनता, अन्धा हो जाना, रक्तहीनता, दुर्बलता, आँख, नाक व गले में इरिटेशन, पुराना वात, बहुमूत्र, सारी छाती भर में दबाव महसूस होना, हृत्पिण्ड रक्त से भरा, गठिया का पुराना रोग, इन सब उपसर्गों व लक्षणों में सफलता के साथ vanadium दवा का उपयोग होता है।

ट्यूबरकुलोसिस की प्रारम्भिक दशा में यह पाचनशक्ति बढ़ाकर टॉनिक के रूप में काम करता है।

वैनीडियम दवा की तुलना आर्से, फोस्फो से की जाती है।

क्रम – 6 से 30 शक्ति।

Ask A Doctor

किसी भी रोग को ठीक करने के लिए आप हमारे सुयोग्य होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर का consultancy fee 200 रूपए है। Fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षण के बारे में पुछा जायेगा और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और दवा लेने की विधि बताई जाएगी। पेमेंट आप Paytm या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं। इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर पे सम्पर्क करें - +919006242658 सम्पूर्ण जानकारी के लिए लिंक पे क्लिक करें।

Loading...

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.