फ्यूकस वेसीकुलोसस [ Fucus Vesiculosus in Hindi ]

0
950

[ सामुद्रिक सेंवार से मूल अर्क तैयार होता है ] – जबरदस्त कब्ज, मोटापा, गलगण्ड ( घेंघा ) रोग में बहुत से चिकित्सक अब इसका व्यवहार करने लगे हैं। ज्यादा चर्बी इकट्ठी होकर शरीर बहुत मोटा हो जाए तो उस मोटाई को घटाने की यह बेजोड़ दवा है। अमेरिका में यह मेद-रोग ( obesity ) की पेटेण्ट दवा के रूप में चालू है।

  1. सिर में दर्द के साथ ऐसा लगे की लोहे से सिर को जकड़ लिया गया है तो ऐसे लक्षण में भी इस दवा का उपयोग लाभदायक है।
  2. गले में गांठ और पककर पीब बनने की स्थिति में इस दवा का उपयोग करने से गाँठ फूटकर पीब बाहर निकल जाती है।
  3. कब्ज के लिए यह दवा बहुत ही लाभदायक है। नए और पुराने हर तरह के कब्ज में इसका इस्तेमाल उत्तम रहता है।
  4. स्थूलकायत्व व गलगण्ड और अत्यंत कष्दायक कब्ज की यह उत्कृष्ट औषधि है।

क्रम – 3 से 30 शक्ति। मदर टिंक्चर एक चाय-चम्मच मात्रा में दिन में 2-1 बार सेवन कराने से जल्दी फायदा होता है।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here