कोटिलिडन ( Cotyledon Homeopathy In Hindi )

797

[ Pennywort ] – इस औषधि का हृदय पर विशेष प्रभाव होता है। पेशियों और तन्तु-उत्तक (Fibrous tissue) में सुन्नपन के साथ लगातार दर्द रहता है वक्ष रोध (oppression of chest), गला भरा हुआ लगता है, मिर्गी, गृध्रसी। दर्द स्तनों से शुरू होकर कन्धे के जोड़ों तक चला जाता है। यह इस औषधि का एक प्रमुख लक्षण है। स्वरयंत्र और श्वास प्रणाली का नजला। सारे जोड़ों में दर्द के साथ वातोन्माद की अवस्था भी गतिशील रहती है।

सिर – सिर दर्द के साथ खोपड़ी पर दबाव। भावनाओं का दमन करने से उत्पन्न होने वाले विकार। रोगी खोया सा रहता है जैसे किसी उलझन में हो। जगने के कुछ देर बाद तक साफ-साफ नही बोल सकता। रोगी को ऐसा लगता है जैसे उसके शरीर से कोई एक भाग गायब हो गया है।

वक्ष – कन्धे के कोणों के नीचे दर्द और दाएं स्तन में लगातार वेदना रहती है बाएं चूचुक में दर्द। ऐसा महसूस होता है जैसे हृदय भरा हुआ हो और किसी रुकावट के कारण फट जायेगा। ऐसा लगता है जैसे दम घुट जायेगा।

वाह्यांग – त्वचा अधिक सूक्ष्मग्राही, कमर, जाधों तथा सभी जोड़ों में निरन्तर वेदना का अहसास। टागों तथा बाजू भारी सी लगती है तथा उनमें दर्द होता है।

सम्बन्ध – अम्बरा, एसाफीटिडा, टेपाटिका, इग्ने, लैकेसिस से तुलना करो।

मात्रा – मूलार्क से 3 शक्ति तक।

Ask A Doctor

किसी भी रोग को ठीक करने के लिए आप हमारे सुयोग्य होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर का consultancy fee 200 रूपए है। Fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षण के बारे में पुछा जायेगा और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और दवा लेने की विधि बताई जाएगी। पेमेंट आप Paytm या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं। इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर पे सम्पर्क करें - +919006242658 सम्पूर्ण जानकारी के लिए लिंक पे क्लिक करें।

Loading...

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

Open chat
पुराने रोग के इलाज के लिए संपर्क करें