एलोपेसिया एरेटा का होम्योपैथिक इलाज || Homeopathy Medicine For Hair Loss In Hindi

7,098

एलोपेसिया एरेटा का होम्योपैथिक इलाज

आधुनिक जीवन-यापन के तौर तरीकों के कारण गंजापन, आंशिक या पूरे सिर में, बहुत आम रोग होता है। रोगी को विभिन्न प्रकार के शैम्पू देने और बाल प्रतिरोपित ( हेयर ट्रांसप्लांट ) करके अमीर बनने के अलावा इस रोग के सामान्य कारणों पर एलोपैथ चिकित्सकों ने बिलकुल ध्यान नहीं दिया है।

गंजापन के कारण (Cuases of Baldness or Alopecia)

  • आधुनिक जीवन में संघर्ष और तनाव
  • विवर संक्रमण और नाक के एलर्जी जनित रोग
  • अर्धकपाली
  • आधुनिक ‘ब्राड स्पेक्ट्रम एंटीबायोटिक’
  • खाद्य पदार्थों में मिलाये गए परीरक्षक रसायन
  • बालों को सेट करने के लिए उपयोग में लाये जाने वाले विभिन्न प्रकार के जेल और स्प्रे।

होम्योपैथी : काली फॉस, एसिड फॉस, सेलेनियम, नेट्रम मयूर, सीपिया से बाल झड़ने के आरंभिक केसेज में अक्सर सफलता मिलती है। इसके साथ बाल झड़ने के कारण का भी निदान किया जाना चाहिए।

इस लेख में हम Alopecia areata के एक केस की चर्चा करेंगे, कि कैसे होम्योपैथिक दवा से इस समस्या को ठीक किया गया।

Alopecia Areata Case 1

दुःखी और स्तब्ध एक 21 वर्षीय सुन्दर लड़की मेरे पास आई क्योंकि एक श्रृंगार-व्यवसायी ने उसके सिर पर कोई हर्बल स्प्रे डाल दिया था जिससे रात भर में उसके बाल झड़ गए थे। दो महीने में उसकी शादी होने वाली थी। मैंने उसे सेलेनियम और एसिड फॉस 6 हफ़्तों तक दिया जिससे उसके बाल निकलने शुरू हो गए और उसके विवाह के समय तक पूरी तरह बढ़ चुके थे।

एलोपैथ चिकित्सक संभवतः कह सकते हैं कि स्थूल मात्रा में सेलेनियम देना भी उतना ही प्रभावकारी होता, किन्तु मैंने देखा है कि ‘क्रूड’ सेलेनियम देने पर यह बहुत अधिक आमाशयिक प्रॉब्लम उत्पन्न करता है।

Alopecia Areata Case 2

सिर पर 4-5 अलग-अलग जगह में बाल पूरी तरह से झड़ने की शिकायत लेकर रोगी मेरे पास आये। बाल गंभीर रूप से झड़ने लगे थे। एक और दिलचस्प लक्षण यह था कि बालों को छूने पर दर्द होता था।

रोगी ने दूसरे अन्य शिकायतें बताई जैसे तनाव, डिप्रेशन, कब्ज, सिरदर्द, और नियमित नाक की रुकावट और गंभीर पीठ दर्द। मानसिक लक्षण पूछने पर पता लगा कि वह गुस्सैल है और जल्दी गुस्सा हो जाती है; भावुक भी है।

रोगी जीवन में बहुत सफल होना चाहती है। वह फैशन डिजाइनिंग करना चाहती है, परन्तु करियर में सफलता नहीं मिल रही है।

वह आसानी से दोस्त नहीं बनाती। वह दूसरों की मदद करती है लेकिन वह ज्यादा उम्मीदें नहीं रखती क्योंकि जब भी उसने किसी चीज की उम्मीद की है तो उसे नकारात्मक परिणाम ही मिले हैं।

रोगी ने बताया कि वह उदास हो जाती है, जिसका कारण यह हो सकता है कि वह घर पर रहती है, वह बाहर नहीं जा पाती। वह दुखी रहती है। जब वह अकेली होती है तो रोती है और इसके बाद उसे बेहतर महसूस होता है।

उसने कहा कि हाल ही में उसके करीबी दोस्त के साथ ब्रेकअप हो गया था जिसके साथ उसने शादी करने की योजना बनाई थी। रोगी ने कहा कि वह उसे भूल नहीं पा रही।

वह जब गुस्सा होती है तो उसका मन करता है कि चीजें फेंक दे और तोड़ दे लेकिन वह अपने गुस्से पर काबू रखती है। अगर कोई उसे सांत्वना देने की कोशिश करता है तो वह इसे बर्दाश्त नहीं कर पाती। इससे उसकी सारी शिकायतें बढ़ जाती हैं।

उसके मन में आत्महत्या के विचार आते हैं लेकिन वह कहती है कि वह ऐसा नहीं कर सकती।

उसे डरावने सपने आते हैं जैसे कि वह ऊंचाई से गिर रही है। उसे जानवरों, कुत्तों से डर लगता है, उसे भीड़ में जाना पसंद नहीं है। उसे टाइट कपड़े पहनना पसंद नहीं है.

शारीरक लक्षण पूछने पर पता लगा कि :- भूख: अच्छी है , लालसा: अचार, कच्चा प्याज, नापसंद: बहुत अधिक मसालेदार भोजन, सिरदर्द जो धूप में बाहर जाने पर बढ़ जाता है, खुली हवा पसंद है, एयरकंडीशनर में रहना पसंद है, आँखों के चारों ओर काले घेरे हैं

रुब्रिक देखने पर हमने निम्नलिखित लिस्ट तैयार किया :- प्रेम निराशा और गुस्सा ,रोने की प्रवृत्ति, डरावने सपने, आत्मघाती प्रवृत्ति, सांत्वना से रोग का बढ़ना , धूप के संपर्क में आने से सिरदर्द, बाल झड़ना, बाल छूने पर दर्द होना

सभी रुब्रिक natrum mur के सबसे करीब है। ऐसे में मैंने natrum mur 200 की 2 बून्द हफ्ते में एक बार लेने को मैंने कहा।

15 दिन बाद रोगी ने कहा कि वह बेहतर महसूस कर रही है। उनकी नींद बेहतर हुई है और उनका सिरदर्द में काफी आराम है। बाल झड़ना – कोई परिवर्तन नहीं।

2 हफ्ते दवा लेने के बाद – शिकायतें पहले से बहुत बेहतर थीं, बालों का झड़ना अब बेहतर हो गया था। कोई सिरदर्द नहीं था. उसका मूड काफी बेहतर है. उसकी उदास भावना बहुत बेहतर है.

मरीज बहुत प्रसन्न मुद्रा में आया। उन्होंने कहा कि गंजे हिस्से में नए बाल आने शुरू हो गए हैं. जब मैंने देखा तो बालों के झड़ने वाले सभी क्षेत्रों से थोड़ी मात्रा में बाल उग रहे थे।

मरीज़ ने एक नया काम शुरू किया है और वह अपने जीवन में किसी के आने की उम्मीद कर रही है। वह अपने एकतरफा प्रेम प्रसंग से उबर चुकी थी।

Video On Alopecia Areata

Homeopathic Treatment For Hair Loss In Hindi

(1) समय से पहले गंजापन और समय से पहले बाल सफेद होने पर : Lycopodium 200, 4 Drops ( Twice Daily ) कुछ दिनों तक लें।

(2) अगर बाल बहुत ज्यादा कमजोर हो गए हैं जो की थोड़े से छूने मात्र से झड़ जाते हों तो : Natrum Mur 200, 4 Drops ( Twice Daily ) कुछ दिनों तक लें।

(3) सिर में जगह-जगह पपड़ी सी जम जाती है, दाने निकलते हैं जिसमे खुजली होती है : Psorinum 200, 4 Drops ( Once in a week )

(4) नहाने के बाद जिसके बाल ज्यादा झड़ते हों, तौलिये से सिर पोछने पर जब बाल ज्यादा गिरे : Sulphur 200, 4 Drops ( Twice Daily ) कुछ दिनों तक लें।

(5) बाल खुश्क, आपस में उलझें, जटा जूट जैसे बाल; खोपड़ी से दुर्गन्ध आय : सोराइनम 200 या 1M आवश्यकतानुसार

(6) बालों के गुच्छे के गुच्छे झड़ते हों, कभी यहाँ से कभी वहां से; चकक्ते के रूप में : फॉस्फोरस 200 या 1M आवश्यकतानुसार

(7) सफेद खुश्क रुसी के कारण बालों का झड़ना। बाल टूट कर गिरते हों : थूजा 30 या 200 आवश्यकतानुसार

(8) चिंता और मानसिक अवसाद की वजह से सिर, भौ, पलकों तथा जननांगों से बाल झड़े : एसिड फॉस 6 या 30, दिन में 3 बार

(9) सिफिलिस कारण बाल झड़ना : अस्टिलेगो 30

(10) बालों का टूटना, बिखरे-छितराये, जटा की तरह ऊपर उठे, रूखे, प्राकृतिक चिकनेपन से अछूते, खुश्क बाल : फ्लोरिक एसिड 6 या 30, दिन में 3 बार

(11) गर्भावस्था के दौरान बाल झड़ना : नैट्रम म्यूर 6x या 30, दिन में 4 बार

(12) बालों का झड़ना, रोगी विरक्त प्रकृति के : सीपिया 200 या 1M, आवश्यकतानुसार

(13) बायोकैमिक औषधि : कैल्केरिया फॉस 6X

Ask A Doctor

किसी भी रोग को ठीक करने के लिए आप हमारे सुयोग्य होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर का consultancy fee 200 रूपए है। Fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षण के बारे में पुछा जायेगा और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और दवा लेने की विधि बताई जाएगी। पेमेंट आप Paytm या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं। इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर पे सम्पर्क करें - +919006242658 सम्पूर्ण जानकारी के लिए लिंक पे क्लिक करें।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

पुराने रोग के इलाज के लिए संपर्क करें