हड्डियों की कमजोरी को दूर करने के लिए होम्योपैथी दवा [ Haddi Majboot Karne Ki Dawa ]

0
700

भारत में जिन महिलाओं की उम्र 60 साल से ज्यादा है उनमे से ज्यादातर को हड्डी के कमजोर होने की समस्या है। यह समस्या बहुत आम हो गई है आजकल क्योकि उम्र बढ़ने के साथ मान लिया गया है कि हड्डियां कमजोर होंगी ही। मानव शरीर 206 हड्डियों से मिलकर बनता है। हड्डियों की मजबूती के लिए उसका घनत्व अधिक होना चाहिए, हमारे शरीर की हड्डियों का घनत्व 30 की उम्र तक अपने चरम पर आ जाता है और उसके बाद वह घटने लगता है। यह महिलाओं में और अधिक तेजी से घटती है। शरीर में हड्डियों का वजन या घनत्व जितना होना चाहिए उससे कम हो या उम्र के साथ जितना घटना चाहिए उससे अधिक घटे तो हड्डियां कमजोर हो जाती हैं।

हड्डियों की कमजोरी के कारण

  1. उम्र बढ़ने के साथ यह समस्या अधिक होती है। यह महिलों को पुरुषों के मुकाबले अधिक होती है।
  2. महिलाएं अगर 60 से अधिक की है तो उन्हें ज्यादा सम्भावना है हड्डी कमजोर होने की।
  3. महिलाओं में 45 की उम्र के बाद मासिक धर्म में रूकावट आ जाती है जिस कारण Osteoporosis हो सकता है क्योकि मासिक धर्म रुकने के बाद एस्ट्रोजन लेवल घटने लगता है जिससे शरीर से कैल्सियम की मात्रा कम हो जाती है।
  4. शराब ज्यादा पीने पर भी यह समस्या हो जाती है, कुछ बीमारियों के कारण भी हड्डी कमजोर होने की समस्या हो जाती है।
  5. बच्चेदानी निकाल देने पर भी Osteoporosis हो जाता है।
Loading...

हड्डी कमजोर होने के लक्षण

  1. अगर उम्र अधिक है और हड्डी कमजोर होने की समस्या है तो कमर में दर्द बना रहेगा, यह समस्या महिलाओं में अधिक होती है।
  2. कमर का दर्द अगर लम्बे समय तक रहता है तो Bone Density test कराना चाहिए ताकि पता चल जाय की आपको Osteoporosis है या नहीं।
  3. रोज के कामों में दिक्कत होना, उठने बैठने में समस्या होना। चलने-फिरने में भी प्रॉब्लम आती है। हड्डियां और जोड़ों में कट-कट की आवाज आती है।

हड्डी की कमजोरी के लिए होम्योपैथी दवा

Calcarea phos + Ferrum phosphoricum :- ये दोनों दवा हड्डी को मजबूत करने में अच्छा मदद करती है। बच्चों की 3x में 2-2 गोली दोनों दवा को चूसने के लिए दें। बड़ों को 4-4 गोली दोनों दवा की कुछ दिन देने से हड्डियां मजबूत हो जाती हैं।

Symphytum Officinale Q :- यह दवाई हड्डी जोड़ने और मजबूत करने के लिए बहुत ही असरदार है, अगर आपकी हड्डी कमजोर है और टूट गई है तो यह दवाई उसे जोड़ने में बहुत मददगार है। हमारी हड्डी छोटे-छोटे रेशों से मिलकर बनी होती है यह दवाई उन्ही रेशो को मजबूत करती है ताकि वो टूटे न कभी। अगर आपको Osteoporosis हो गया है तो इसकी 20 बून्द आधे कप पानी में डाल कर दिन में तीन बार लेनी है। इसे तीन से छः महीने तक लगातार पीना है, इस दवाई के कोई भी साइड-इफ़ेक्ट नहीं है।

SBL Homeocal Tablets :- यह दवाई SBL की आती है और यह दवाई Osteoporosis के लिए बहुत ही लाभदायक है। इसमें बहुत से होम्योपैथी दवाई मिले हुए है। यह दवाई हड्डियों के घनत्व को बढ़ाती है। यह कमरदर्द को ठीक करती है और यह दवाई कैल्शियम की कमी को भी दूर करती है। यदि आपकी हड्डियां बचपन से ही कमजोर है तो यह दवाई जरूर लेनी चाहिए। अगर आपकी उम्र 50 से अधिक है तो इसकी दो-दो गोली दिन में तीन से चार बार चूसे, और अगर आपकी उम्र 45-60 के बीच की है और आपको Osteoporosis नहीं हुआ है तो इसकी एक गोली दिन में तीन बार ले ताकि आपको Osteoporosis न हो और अगर आपको Osteoporosis हो गया है तो दो गोली दिन में तीन बार ले।

Ask A Doctor

किसी भी रोग को ठीक करने के लिए आप हमारे सुयोग्य होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर का consultancy fee 200 रूपए है। Fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षण के बारे में पुछा जायेगा और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और दवा लेने की विधि बताई जाएगी। पेमेंट आप Paytm या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं। इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर पे सम्पर्क करें - +919006242658

नोट :- यह दोनों ही दवाइयाँ आपको Osteoporosis में लेनी है। हड्डी कमजोर है तो सबसे ऊपर वाले दवा का प्रयोग करें। अगर आपका Osteoporosis ज्यादा लम्बे समय का है और कमर में दर्द होता रहता है तो यह दवाईयाँ एक से दो साल तक ले।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here