यूरिक एसिड बढ़ने के कारण, लक्षण और उपचार [ High Uric Acid Ka Lakshan Aur Upchar ]

1,031

जैसा कि हम जानते हैं कि हमारा शरीर 24/7 काम करता है। आप जब भी कुछ खाते हैं तो आपका शरीर प्रोटीन और विटामिन जैसी अच्छी चीजों को खींचता है और अपशिष्ट को भेजता है। अपशिष्ट उत्पादों में से एक यूरिक एसिड है।

यूरिक एसिड एक रसायन होता है जिसका निर्माण प्यूरिनों के टूटने से होता है। प्यूरिन नाइट्रोजन युक्त यौगिक होते हैं जो आपके शरीर की कोशिकाओं के अंदर बने होते हैं। यूरिक एसिड आम तौर पर शरीर में उत्पादित होते हैं। यह शरीर के खून से होकर गुर्दों से गुजरतें हैं और मूत्र में उत्सर्जित होते हैं। यह कुछ खाद्य पदार्थों और पेय पदार्थों में भी पाए जाते हैं। ज्यादा प्यूरिन से यूरिक एसिड का उच्च स्तर आपके ऊतकों में जमा हो सकता है और वहाँ वह क्रिस्टल बना सकता है। ये रक्त में उच्च यूरिक एसिड के कारण बन सकते हैं। यूरिक एसिड तब भी उत्पन्न हो सकता है जब शरीर में कोशिकाएं अलग हो जाती है या फिर कोशिकाएं मर जाती हैं।

रक्त में यूरिक एसिड का उच्च स्तर hyperuricemia कहलाता है। यह यूरिक एसिड का उच्च स्तर होता है। यह अवस्था तब पैदा होती है जब रक्त में अतिरिक्त यूरिक एसिड केंद्रित होता है। Hyperuricemia में यूरिक एसिड यकृत के माध्यम से गुजरता है और आपके रक्त प्रवाह में प्रवेश करता है।

सामान्य यूरिक एसिड के स्तर 2.4-6.0 मिलीग्राम (मादा में) और 3.4-7.0 मिलीग्राम (पुरुषों में) होते हैं।

अधिकांश यूरिक एसिड रक्त में घुल जाता है और गुर्दे की यात्रा करता है और फिर इसके बाद ये मूत्र में से गुजरता है। यदि आपका शरीर बहुत अधिक यूरिक एसिड पैदा करता है तो, आप बीमार हो सकते हैं। यूरिक एसिड – कार्बन, नाइट्रोजन, ऑक्सीजन और हाइड्रोजन का एक हेटरोक्साइकल यौगिक है।

रक्त यूरिक एसिड परीक्षण, रक्त नमूने में ये यूरिक एसिड की मात्रा को मापता है। अधिकांश यूरिक एसिड रक्त में मिलता है और शरीर से ये मूत्र के माध्यम से बाहर निकल जाता है। मल में शरीर से एक छोटी राशि गुजरती है परंतु अगर शरीर में बहुत अधिक यूरिक एसिड का उत्पादन किया जा रहा है या गुर्दे में सामान्य रूप से इसे हटाने की क्षमता नहीं है तो, रक्त में यूरिक एसिड का स्तर बढ़ जाता है।

शरीर में यूरिक एसिड के लेवल बढ़ने के कारण

उच्च यूरिक एसिड के स्तर अत्यधिक उन लोगों में देखे गए हैं, जिन्हें ट्यूमर की शिकायत है। जैसे वह लोग जो मेटास्टेटिक कैंसर, माइलोमा या ल्यूकेमिया के शिकार हैं। इन ट्यूमर के साथ, ट्यूमर कोशिकाओं की बड़ी संख्या में यूरिक एसिड के अधिक उत्पादन में योगदान होता है। ट्यूमर लीसिस सिंड्रोम के कारण कीमोथेरेपी उपचार कभी-कभी उच्च यूरिक एसिड के स्तर का कारण बन सकता है। यह सिंड्रोम तब होता है जब किसी के पास एक बड़ा ट्यूमर बोझ होता है और कीमोथेरेपी कैंसर कोशिकाओं की एक बड़ी संख्या में मरने का कारण बनती है और रक्त प्रवाह में डीएनए और आरएनए समेत अपनी सेलुलर सामग्री जारी करती है। यह रक्त में यूरिक एसिड की एकाग्रता को बढ़ाता है।

शरीर में यूरिक एसिड के लेवल की जांच

  1. शरीर में यूरिक एसिड की जांच और उसका लेवल पता करने के लिए कुछ परीक्षण भी किये जाते हैं जिससे निम्मलिखित बातों का पता चलता है:-
  2. गठिया का निदान करने में मदद हो रही है या नहीं।
  3. यदि शरीर में उच्च यूरिक एसिड के स्तर के कारण, गुर्दे की पथरी होने का अंदेशा तो नहीं।
  4. यह जांचने के लिए की क्या यूरिक एसिड के स्तर को कम करने वाली जो दवाइयां दी जा रही हैं ,वह काम कर रही है या नहीं।

यूरिक एसिड बढ़ने के लक्षण

जब आप के शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा अधिक बढ़ जाती है तो आपके शरीर का pH संतुलन पैमाने के ‘अम्लीय’ पक्ष में जाता है। ऐसी स्थिति में आपको गठिया, गुर्दे की पथरी और सामान्य संयुक्त दर्द जैसी शिकायत हो सकती है।

यूरिक एसिड के सामान्य लक्षण

शरीर में यूरिक एसिड गठिया के रूप संयुक्त लक्षण पैदा करता है। जिसमे स्पर्श होने पर दर्द, सूजन, लाली और कोमलता शामिल होती हैं। गठियों से सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाला शरीर का एक अंग पैर है। इसे एड़ी, घुटने और पैर की उंगलियां और साथ ही कलाइयों और कोहनियों भी प्रभावित होती हैं, उनमे दर्द रहता है।

लक्षण शुरू होने के बाद संयुक्त रूप से दर्द के लिए लगभग 12 से 24 घंटे लगते हैं। उसके बाद ये कुछ दिनों या हफ्तों तक असहज हो सकता है। अगर इसका समय पर इलाज नहीं किया गया तो जोड़ों को स्थायी रूप से नुकसान हो सकता है।

किडनी (गुर्दे) के लक्षण

गुर्दे के लक्षण आम तौर पर पुरुषों में अधिक दिखाई पड़ते हैं। यह पीठ दर्द, पेट दर्द, बुखार, उल्टी, मतली और मूत्र में खून जाना जैसे विभिन्न लक्षणों का कारण बन सकते हैं।

त्वचा के लक्षण

उच्च यूरिक एसिड के स्तर और गठिया के हमलों के कुछ सालों के बाद, क्रिस्टल साइड यूरिक एसिड त्वचा के नीचे गट्ठे बना सकते हैं, परंतु यह आम तौर पर खतरनाक और दर्दनाक नहीं होते हैं।

उच्च यूरिक एसिड के स्तर के गंभीर खतरे

उच्च यूरिक एसिड गंभीर समस्याओं का कारण बन सकता है जिसमे शामिल हैं :-

  • दिल की बीमारी
  • पथरी
  • किडनी में खराबी
  • उच्च रक्त चाप
  • गाउट
  • यूरिक एसिड बढ़ने का इलाज

अनिर्धारित दवाइयां : – NSAIDs गठिया के दौरान जोड़ों में दर्द और सूजन को कम करने में मदद करता है। यदि आप पहले 24 घंटों में NSAIDs लेते हैं तो यह हमलों को कम करने में मदद करता है। इसके अतिरिक्त बर्फ का उपयोग कर और आराम कर के भी दर्द को कम किया जा सकता है।

निर्धारित दवाइयां : – यदि आप अपने डॉक्टर से संपर्क करते हैं तो आप का डॉक्टर आप को इन निम्नलिखित दवाइयों में से किसी एक दवा को सेवन करा सकता है।

Colchicine reduces inflammation – यह जलन को दूर करता है।

Steroids – यह जलन से लड़ता है और उसे कम करने में लाभदायक है।

Probenecid – यह आपके गुर्दे में सेे यूरिक एसिड निकालने में मदद करता है।

Allopurinol – यह यूरिक एसिड के उत्पादन को रोकता है।

Febuxostat – यूरिक एसिड की मात्रा को शरीर में बढ़ने से रोकता है।

Lesinurad – यह मूत्र के माध्यम से आपके शरीर में से अधिक से अधिक यूरिक एसिड निकालने का प्रयास करता है।

यूरिक एसिड को कम करने के घरेलू उपचार

  • ज्यादा से ज्यादा पानी पीने की कोशिश करें। कम से कम 3-4 लिटर्स। पानी, शरीर में जो यूरिक एसिड उपलब्ध है उसे निकलने में काफी सहायक करता है।
  • खाने में ऐसे पदार्थो का उपयोग करें जिनमे कार्बोहाइड्रेट्स की मात्रा अधिक हो।
  • वसायुक्त भोजन (फैटी फूड्स) खाने से बचें। उधाहरण के लिए आइस क्रीम या तली हई चीजें।
  • अधिक व्यायाम करें।
  • अगर आप डाइट पर हैं, तो धीरे धीरे अपना वजन कम करें, त्वरित वजन घटाने से यूरिक एसिड गुर्दे में पत्थरों का निर्माण करता है।
  • धूम्रपान के सेवन से बचें।
  • प्रत्येक भोजन में आप जितना मांस खाते हैं उसे सीमित करें। उसका उपयोग कम से कम करें।
  • जोड़ों में दर्द है तो उस की बर्फ से सिकाई करें।
  • कैफिन का सेवन कम करें।
  • खाने में मीठे ब्रेड से बचें, ये यूरिक एसिड के स्तर को बढ़ाने में योगदान देते हैं।
  • समुद्री भोजन खाने से बचें।
  • विटामिन C और विटामिन E वाले पदार्थों का अधिक से अधिक सेवन कीजिए।
  • ताजे फलों और सब्जियों का उपयोग करें।
  • फलों में सेब का सेवन करें और सेब के अतिरिक्त पापाया और पेयर्स भी यूरिक एसिड को कम करने में लाभदायक हैं।

हालांकि ज्यादातर खाद्य पदार्थों में प्यूरिन पाया जाता है, इसलिए ये बात समझना बहुत ही आवश्यक है कि सभी शुद्ध स्रोत खाद्य पदार्थ शरीर को सामान्य तरह से प्रभावित नहीं करते। ताजा सब्जियां और फल शरीर में यूरिक एसिड को कम करते हैं। अक्सर लाल मांस और अत्यधिक संसाधिक खाद्य पदार्थ से बचने की सलाह डॉक्टरों द्वारा दी जाती है और ताजा फल और सब्जियों को प्रोत्साहित किया जाता है ताकि रोगी के रक्त में क्षारीयता बढ़ सके।

Ask A Doctor

किसी भी रोग को ठीक करने के लिए आप हमारे सुयोग्य होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर का consultancy fee 200 रूपए है। Fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षण के बारे में पुछा जायेगा और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और दवा लेने की विधि बताई जाएगी। पेमेंट आप Paytm या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं। इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर पे सम्पर्क करें - +919006242658 सम्पूर्ण जानकारी के लिए लिंक पे क्लिक करें।

Loading...

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.