Care Mosquito Bites – मच्छरों से सुरक्षा

679

मच्छरों के प्रकोप से बचने के लिये बाजार में कई प्रकार की रासायनिक दवायें उपलब्ध हैं। कुछ अगरबत्तियाँ भी बाजार में उपलब्ध हैं जो रासायनिक यौगिकों जैसे- पाइरीथम पाउडर, सैइट्रौनिला ऑयल आदि से निर्मित की जाती हैं, पर ये विषैले रसायन मनुष्य के स्वास्थ्य पर अपना बुरा असर भी अवश्य डालते हैं । अतः मच्छरों से बचने का सबसे सरल और सुरक्षित उपाय यह है कि मच्छरदानों का प्रयोग किया जाये । साथ ही, अपने घर में तथा घर के आस-पास गन्दगी एकत्रित न होने दी जाये । होमियोपैथी में इस समस्या का इलाज इस प्रकार है

स्टेफिसेग्रिया 6x, 30- इस दवा को प्रतिदिन दो-तीन बार लेने से मच्छर नहीं काटते हैं ।

नैट्रम म्यूर 30- जब मलेरिया का प्रकोप फैला हो तो इस दवा को प्रतिदिन दो-तीन बार लेने से मलेरिया से बचा जा सकता है किन्तु गर्भाधान के इच्छुक दम्पत्तियों और गर्भवती महिलाओं को इस दवा का प्रयोग नहीं करना चाहिये।

एजाडिरेक्टा इण्डिका Q, 30- यह नीम से बनने वाली दवा है । इसका प्रतिदिन दो-तीन बार प्रयोग करने से मच्छर, खटमल, जूं आदि शरीर के सम्पर्क में नहीं ठहर पाते हैं और शरीर का रक्त पीने में असमर्थ हो जाते हैं । इसे तेल में मिलाकर शरीर पर लगाया भी जा सकता है ।

Ask A Doctor

किसी भी रोग को ठीक करने के लिए आप हमारे सुयोग्य होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर का consultancy fee 200 रूपए है। Fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षण के बारे में पुछा जायेगा और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और दवा लेने की विधि बताई जाएगी। पेमेंट आप Paytm या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं। इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर पे सम्पर्क करें - +919006242658 सम्पूर्ण जानकारी के लिए लिंक पे क्लिक करें।

Loading...

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

Open chat
पुराने रोग के इलाज के लिए संपर्क करें