Browsing Category

Stomach Diseases

अजीर्ण रोग और उससे सम्बंधित होम्योपैथिक दवा

किसी भी कारणों से अजीर्ण रोग हो सकते हैं, यहाँ कारण और अजीर्ण रोग की होम्योपैथिक दवा दी गई है। सर्दी लगने के कारण उत्पन्न हुए अजीर्ण में - मर्क, एकोन तथा डल्कामारा-1…

Homeopathic Medicine For Indigestion And Dyspepsia In Hindi

लक्षण - पेट में भारीपन, पेट भरा-भरा-सा अनुभव होना, पेट में जलन, गले तक जलन का आना, खट्टी डकारें आना, पेट में हवा भरी रहना, कब्ज रहना अथवा बिना पचे भोजन का टट्टी में निकल जाना, मुँह…

पेट में फोड़ा होम्योपैथिक इलाज [ Peptic Ulcer Homeopathic Treatment Hindi ]

लक्षण - यह रोग प्राय: स्त्रियों में अधिक पाया जाता है। पेट तथा छाती की हड्डी के नीचे जलन का दर्द, खाना खाने के बाद दर्द का बढ़ जाना, वमन होना तथा वमन होने के बाद दर्द का शान्त हो…

पीलिया का होम्योपैथिक इलाज

पीलिया से यकृत की विषाणुजनित सूजन, आकार बढ़ना, दर्द जिसके कारण संपूर्ण पाचन प्रक्रिया एवं शरीर की वह प्रक्रिया जिससे भोजन जीवित पदार्थ में बदल जाता है अर्थात् पाच्य प्रक्रिया गड़बड़ा…

उल्टी का होमियोपैथिक इलाज

उल्टी होना अपने आप में कोई रोग नहीं है। अधिकांश रोगियों में यह किसी अंदरूनी रोग का बाहरी संकेत मात्र है। कई बार उल्टी होना लाभदायक भी होता है। उदाहरण के लिए यदि कोई व्यक्ति…

गुर्दे की पथरी का होमियोपैथिक इलाज

पथरी होने का कोई स्पष्ट कारण तो ज्ञात नहीं हो सका है, फिर भी शरीर में अतिरिक्त उष्णता बढ़ने, गर्म जलवायु के प्रभाव से, पानी कम मात्रा में पीने आदि कारणों से शरीर में जलीय-अंश की…

पित्ताशय की पथरी – गाल ब्लैडर स्टोन

शरीर में 'कोलेस्ट्रोल' नामक पदार्थ बनने के कारण ही पित्ताशय की पथरी बनती है और पथरी का 50-98% भाग ‘कोलेस्ट्रोल' ही होता है। लगभग 75% पथरियां कोलेस्ट्रोल निर्मित ही होती हैं। शेष…

pet mein keede ka ilaj in hindi – पेट के कीड़े का इलाज

बच्चों के पेट में कीड़े हो जाना संसार के कई विकासशील खासकर गर्म देशों में एक आम परेशानी है, लेकिन यदि हम सफाई का विशेष ध्यान रखें, वातावरण एवं अपने आसपास की सफाई पर गौर करें और…

dysentery treatment in hindi – पेचिस का इलाज

एक बार शरीर में पहुंच जाने के बाद शिजैला डिसेन्ट्री वहां हाइड्रोक्लोरिक एसिड के प्रभाव से बचा रहता है, छोटी आंत को पार कर अंत में बड़ी आंत में पहुंचकर बस जाता है। कोलन (बड़ी आंत) के…

alsar ka upchar in hindi – अल्सर के उपाय

कैसे होता है पेप्टिक अल्सर पेटिक अल्सर होने का मुख्य कारण ज्यादा मिर्च-मसाले वाला भोजन ज्यादा समय तक लेना, अत्यधिक चाय, कॉफी, शराब व सिगरेट पीना, खाना समय से न खाना, ज्यादा समय तक…

pet ki bimari ka ilaj – पेट के रोग और इलाज

उदर-विकार समय पर खाना न खाना, अधिक तली चीज़ें खाना, अत्यधिक खाना खाना अथवा भूखा रहना, मिर्च-मसालों का अधिक प्रयोग आदि उदर- विकारों को उत्पन्न करने के लिए पर्याप्त हैं। प्रमुख…