गोरापन के लिए होम्योपैथिक दवा [ Gora Hone Ki Homeopathic Medicine In Hindi ]

0
477

प्रदूषित वातावरण के कारण हमारी त्वचा का निखार कम होता जा रहा है और त्वचा सम्बन्धी बहुत सी बीमारियाँ होने लगी है। आज कल के भागदौड़ भरे जीवन में हम लोगों को बहुत से मानसिक व शारीरिक तनावों का सामना करना पड़ता है जिसका असर हमारे चेहरे की त्वचा पर भी पड़ता है। चेहरे की त्वचा बहुत ही बेजान सी लगने लगती है। होम्योपैथिक में इस समस्या से निपटने के लिए एक दवाई है जिसका सेवन आपके चेहरे की त्वचा में फिर से निखार ला सकती है। इसके साथ ही Acne की समस्या व Acne की वजह से होने वाले काले धब्बे भी ठीक हो जाते है। चेहरे की त्वचा से सम्बन्धित सभी समस्याओं में यह दवाई कारगर है।

इस दवाई में कई सारी होम्योपैथिक दवाइयां मिली हुई है।  इस Solution का नाम Mary Fairness Formula है। इस solution को बनाने के लिए निम्न दवाइयों का प्रयोग करना होगा:-

Sulphur 6 CH :- इस दवाई से चेहरे की त्वचा संबंधित लगभग सभी समस्याओं का समाधान किया जा सकता है। अगर आपकी त्वचा में खुजली अधिक होती है, त्वचा बहुत अधिक बेजान हो गई है या Acne की समस्या है या चेहरे की त्वचा काली पड़ती जा रही है तो Sulphur बहुत ही असरदार दवाई है।

Bovista 6 CH :- बहुत ज्यादा power-cream का इस्तेमाल करने से चेहरा खराब होने लगता है। बहुत सारे Products का इस्तेमाल इसे बेजान बना देता है, इस creams के बुरे प्रभाव को कम करने के लिए Bovista बहुत अच्छी दवाई है। यह त्वचा के निखार को भी बढ़ाने में मदद करता है।

Sepia 6 CH :- यदि आपका चेहरा बेजान हो गया है और उसने अपना निखार खो दिया है, तो Sepia बहुत ही असरदार दवाई है। यह खोई हुई निखार को वापस लाने में मदद करता है।

Kali Brom 6 CH :- यदि आपको pimples बहुत ज्यादा है और बार-बार आता-जाता रहता है साथ ही इसकी वजह से काले निशान भी पड़ गए हैं तो Kali Brom इस समस्या को दूर करने में मदद करता है।

Natrum Muriaticum 6 CH :- यह दवाई सबसे ज्यादा जरुरी है इस solution को बनाने के लिए, यह दवाई सबसे ज्यादा जरुरी है त्वचा के निखार को बढ़ने के लिए और गोरापन लाने के लिए। अगर आपका चेहरा बहुत ज्यादा चिपचिपा और तैलीय है तो Natrum Mur बहुत असरदार है।

दवा लेने की विधि :- आपको इन पाँचों दवाइयों को बराबर मात्रा में मिला कर एक 100 ml की कांच की बोतल में मिला कर रखना है। इसके लिए पांचो दवाइयों को 20 ml की मात्रा में लेना है न ज्यादा न कम। इसके बाद इस बोतल को अच्छे से बंद करके 5 मिनट के लिए हिलाना है ताकि सब दवाइयाँ मिल जाये और इस तरह आपका Mary Fairness Formula तैयार है।

इसकी छः बून्द दिन में तीन बार सुबह, दोपहर और शाम को पीना है। आप चाहे तो इसे आधे कप पानी में डालकर भी ले सकते हैं अगर जीभ में जलन होती है तो।

नोट:- साथ ही आपको एक External दवाई का भी प्रयोग करना है। Berberis Aquifolium Q को आपको अपने चेहरे पर लगाना है। Berberis की 20-25 बूँद लेकर इसे 20-25 बूँद गुलाब जल में मिला कर अपने चेहरे पर लगाना है । इसका प्रयोग भी दिन में तीन बार करना है। इन दोनो दवाईयों के सेवन से आपको जल्द ही बेहतर परिणाम देखने को मिलेंगे। Mary Fairness Formula से आपको भीरती तौर पर लाभ पहुचेगा और जो कमी रह जाएगी वह Berberis पूरा कर देगा।

 

Loading...
SHARE
Previous articleबालतोड़ का होम्योपैथिक इलाज [ Boils Ka Homeopathic Dawa ]
Next articleViscum Album 30 CH Benefits, Uses And Side Effects In Hindi
जनसाधारण के लिये यह वेबसाइट बहुत फायदेमंद है, क्योंकि डॉ G.P Singh ने अपने दीर्घकालीन अनुभवों को सहज व सरल भाषा शैली में अभिव्यक्त किया है। इस सुन्दर प्रस्तुति के लिए वेबसाइट निर्माता भी बधाई के पात्र हैं । अगर होमियोपैथी, घरेलू और आयुर्वेदिक इलाज के सभी पोस्ट को रेगुलर प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे फेसबुक पेज को अवश्य like करें। Like करने के लिए Facebook Like लिंक पर क्लिक करें। याद रखें जहां Allopathy हो बेअसर वहाँ Homeopathy करे असर।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here