अंगुलबेढ़ा का होम्योपैथिक इलाज और दवा [ Homeopathic Medicine For Bunion In Hindi ]

0 38

अंगुलबेढ़ा क्या है?

एक गांठ होता है जो पैर के अंगूठे के बाहर बनता है। यह पैर की विकृति पैर के जोड़ पर दबाव के कारण होती है। यह अवस्था पुरूष की तुलना में स्त्री में दस गुना अधिक पाई जाती है। इसमें बड़े अंगूठे और दुसरे उंगलियों की जोड़ में पीड़ापूर्ण वृद्धि होती है। अधिकांश रूप से यह खराब फिटिंग वाले जूतों को पहनने के कारण होता है। अंगुलबेढ़ा पर अधिक चर्चा न करते हुए मैं इसे ठीक करने की मुख्य होम्योपैथिक दवा की चर्चा करूँगा।

Benzoic Acid 30 : अंगुलबेढ़ा में अगर पैर के बड़ी उंगली में अत्यधिक दर्द हो तब इस औषधि का प्रयोग किया जा सकता है। इस दवा में पेशाब से कड़वे बादाम जैसी बदबू आती है। यह बदबू पूरे कमरे में फ़ैल जाती है। ऐसे लक्षण में इस दवा की 2 बून्द 3 बार लेना है।

Hypericum 30 : अंगुलबेढ़ा के साथ झुनझुनी और जलन जैसा दर्द होता है। यह दवा अंगुलबेढ़ा के दर्द को कम करने में सहायता करती है। ऐसे लक्षण में इस दवा की 2 बून्द 3 बार लेना है।

Rhododendron 30 : पैर की बड़ी उंगली में गठिया और सूजन के साथ दर्द की तकलीफ जो ठीक करता है। इस दवा का लक्षण है कि तूफान, आर्द्र मौसम से पहले दर्द बढ़ जाता है। ऐसे लक्षण में इस दवा की 2 बून्द 3 बार लेना है।

हाथों का अंगुलबेढ़ा

Ledum pal 30 : अगर उंगली में काँटा और सुई चुभने के कारण व्रण हुआ हो तो यह दवा उपयोगी है। यह औषधि इलाज ही नहीं करती है बल्कि एंटी टिटनेस का कार्य करती है। अगर कभी जंग लगा लोहे का कील चुभ जाये तो तुरंत इस दवा के सेवन से टिटनेस होने का खतरा ख़त्म हो जाता है।

Myristica sebifera 30 : यह दवा प्रायः Hepar Sulphur तथा Silicea की अपेक्षा अधिक तेजी से कार्य करती है। यह अंगुलबेढ़ा पर विशेष प्रभाव डालती है। यह मवाद बनने की अवधि को कम करती है और घाव को जल्दी सूखाने में मदद करता है। यदि शीघ्र ही दवा दी जाये, तो अंगुलबेढ़ा की वृद्धि को रोक देती है। इस दवा की 2 बून्द दिन में 3 बार देना है।

Silicea 30 : यह दवा भी अंगुलबेढ़ा के वृद्धि को रोकता है और मवाद बनने नहीं देता।

Borax 30 : अंगूठे में दर्द साथ में अंगूठे के सिरे में स्पंदन के साथ दर्द होने पर उपयोगी रहती है। ऐसे दर्द में इस दवा की 2 बून्द जीभ पर लेना है।

टिप्स – बच्चे को अंगूठा चूसने की पुरानी आदत होती है। इस आदत को छुड़ाने के लिए Natrum Mur 1000 की 2 बून्द प्रत्येक 15 दिन पर दोहराएं।

 

Ask A Doctor

किसी भी रोग को ठीक करने के लिए आप हमारे सुयोग्य होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर का consultancy fee 200 रूपए है। Fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षण के बारे में पुछा जायेगा और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और दवा लेने की विधि बताई जाएगी। पेमेंट आप Paytm या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं। इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर पे सम्पर्क करें - +919006242658 सम्पूर्ण जानकारी के लिए लिंक पे क्लिक करें।

Loading...
Leave A Reply

Your email address will not be published.

Open chat
पुराने रोग के इलाज के लिए संपर्क करें