सिरिंगोमा का होम्योपैथिक इलाज | Homeopathic Treatment for Syringoma In Hindi

0 41

सिरिंगोमा हानिरहित छोटे सौम्य ट्यूमर है। वे अक्सर गाल के ऊपर और पलकों पर गुच्छों में पाए जाते हैं, लेकिन ये चेहरे पर, बगल, नाभि, छाती और योनी में भी उत्पन्न हो सकते हैं।

सिरिंजोमा त्वचा के रंग का या पीले रंग का छोटा गोल गांठ होता है, जिसका व्यास एक से तीन मिलीमीटर होता है। वे किशोरावस्था में अधिक देखने को मिलते हैं और पुरुषों की तुलना में महिलाओं में अधिक पाए जाते हैं।

Syringoma के कारण

Syringomas किसी भी पसीने की ग्रंथि में गड़बड़ी के कारण या पसीने की ग्रंथि जब काम करना बंद कर देती है तो वहां ट्यूमर होने की संभावना बढ़ जाती है। यही छोटे-छोटे ट्यूमर सिरिंजोमा के रूप में त्वचा पर इकट्ठे हो जाते हैं। कुछ और कारणों से भी Syringomas होने की संभावना बढ़ सकते हैं :-

  1. आनुवंशिकी
  2. डाउन सिंड्रोम
  3. डायबिटीज
  4. मार्फन सिंड्रोम
  5. एहलर्स-डानलोस सिंड्रोम

Syringoma के लक्षण

  1. Syringoma आमतौर पर छोटे-छोटे गाँठ जोकि 1 और 3 मिलीमीटर के बीच दिखाई देते हैं। ये स्किन कलर के या हल्के पीले रंग के होते हैं।
  2. कुछ syringoma आमतौर पर अपने सीने या पेट पर झुण्ड के झुण्ड पाए जाते हैं।
  3. Syringoma में खुजली या दर्द नहीं होता है। आमतौर पर छूने से भी दर्द नहीं करता है।

Syringoma की मुख्य होम्योपैथी दवाएं

होम्योपैथी आज एक बढ़ती हुई प्रणाली है और पूरी दुनिया में इसका अभ्यास किया जा रहा है। यह मानसिक, भावनात्मक, आध्यात्मिक और शारीरिक स्तरों पर आंतरिक संतुलन को बढ़ावा देकर बीमार व्यक्ति के रोग को जड़ से ठीक करती है। जहाँ तक Syringoma का सवाल है तो होम्योपैथी में कई ऐसी दवाएं उपलब्ध हैं, जो इस बीमारी को जल्दी से जड़ से ठीक कर देती है। लेकिन दवा का चुनाव मानसिक और शारीरिक लक्षणों को ध्यान में रखते हुए करना चाहिए।

मैं यहाँ Syringoma की 4 मुख्य होम्योपैथी दवाओं की चर्चा कर रहा हूँ :-

Antimonium crud 30 CH : त्वचा पर ऐसे छोटे-छोटे फुंसियों, गांठों में यह दवा बहुत अच्छा काम करती है। इन गांठों में जलन और खुजली भी हो सकती है। Antimonium crud के रोगी को पेट की समस्या के साथ जुबान पर सफ़ेद लेप बैठा रहता है। अगर ऐसा लक्षण दिखे तो Antimonium crud 30 की 2 बून्द दिन में 3 बार लेना है।

Kali iodatum 30 CH : छोटे-छोटे, गोल-गोल कड़े गाँठ को यह ठीक करता है। किसी अंग में अगर टिश्यू का ग्रोथ हो रहा है तो भी यह दवा अच्छा काम करती है। इसलिए इस दवा का इस्तेमाल भी हमें Syringoma के केस में करना ही है और 2 बून्द दिन में 3 बार लेना है।

Medorrhinum 1000 CH : यह साइकोटिक नोड्स है और कहीं भी ट्यूमर या मस्से को ठीक करने में इस्तेमाल किया जाता है। इसका इस्तेमाल हमें 15 दिन में सिर्फ 1 बार करना है।

Thuja 1000 CH : यह दवा Syringoma या किसी भी प्रकार के गाँठ, मस्से की अचूक दवा है। अधिकतर होम्योपैथ इस दवा का इस्तेमाल अपने प्रैक्टिस में करते ही हैं। इसका इस्तेमाल हमें 15 दिन में सिर्फ 1 बार करना है।

Ask A Doctor

किसी भी रोग को ठीक करने के लिए आप हमारे सुयोग्य होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर का consultancy fee 200 रूपए है। Fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षण के बारे में पुछा जायेगा और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और दवा लेने की विधि बताई जाएगी। पेमेंट आप Paytm या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं। इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर पे सम्पर्क करें - +919006242658 सम्पूर्ण जानकारी के लिए लिंक पे क्लिक करें।

Loading...
Leave A Reply

Your email address will not be published.

Open chat
पुराने रोग के इलाज के लिए संपर्क करें