Astacus Fluviatilis 30 Uses In Hindi [ चकत्ते की होम्योपैथिक दवा ]

0
385

यह Animal Kingdom की होम्योपैथी दवाई है। Astacus Fluviatilis होम्योपैथी दवाई के शरीर पर कई प्रभाव पड़ते हैं, यह दवाई हमारे लीवर पर असर करती है, यदि लीवर में पित्त की समस्या हो जाये और जिसके कारण हमारे शरीर पर चकत्ते हो जाये तो Astacus Fluviatilis बहुत ही असरदार दवाई है। जब हमारे शरीर में पित्त बढ़ जाता है तो चकत्ते निकल जाते है जिसे पित्ती भी कहा जाता है, इसके लिए Astacus Fluviatilis रामबाण जैसा असर करती है।

वह कौन से लक्षण है जब Astacus Fluviatilis होम्योपैथी दवाई का सेवन किया जाना चाहिए:-

  1. अगर आपकी त्वचा में बहुत अधिक खुजली हो और खुजली के बाद लाल-लाल चकत्ते नूमा निशान बन जाये उस पूरे हिस्से पर तो यह दवाई बहुत ही असरदार है।
  2. शरीर पर खुजली के बाद पहले तो लाल-लाल धारियां बन जाये और उसके बाद वहाँ सूजन आ जाये तो इस समस्या में यह दवाई लेनी है।
  3. खुजली इतनी हो की उसकी वजह से खून निकल जाये और खुजली कभी कम न हो तो यह दवाई बहुत ही फायदेमंद है।
  4. अगर आपके शरीर का कोई हिस्सा बिल्कुल लाल पड़ जाये तो Astacus Fluviatilis बहुत ही लाभदायक दवाई है।
  5. अगर आपके लीवर में पित्त बढ़ जाता है जिससे आपको यह सभी समस्याएं होती है तो लीवर की इस समस्या को ठीक करने के लिए भी यह दवाई बहुत ही असरदार है।
  6. पीलिया की समस्या में अगर आपको बहुत खुजली होती है तो यह दवाई बहुत ही फायदेमंद है।
Loading...

Astacus Fluviatilis होम्योपैथी दवाई लेने की विधि

यदि आपको बार-बार चकत्ते या पित्ती की समस्या होती है चाहे वह समस्या लम्बे समय से हो या अभी हुई हो और कोई भी दवाई उसपर असर न कर रही तो Astacus Fluviatilis इसके लिए रामबाण दवाई है। यदि खुजली इतनी हो रही है की उसमे से खून भी निकलने लगा है, कुछ खाने, नहाने या ठण्ड लगने पर भी अगर आपको चकत्ते निकल जाते है या अन्य किसी भी कारण से अगर चकत्ते निकल जाते है शरीर में तो यह दवाई बहुत ही लाभदायक है।

कई लोगों को यह समस्या काफी लम्बे समय से होती है और वह ठीक नहीं हो रही होती है एलोपैथी दवाई से तो यह दवाई बहुत ही लाभदायक है। अलग आपके परिवार में किसी को यह समस्या है तो आपको उन्हें यह दवाई देनी चाहिए क्योंकि इस दवाई से जल्दी राहत मिलती है। Astacus Fluviatilis 6CH या 30CH में ले सकते है। आपको इसकी दो-दो बून्द दिन में तीन बार पीनी है। यह दवाई आपको कम से कम एक महीने तक लेनी है, अगर आपको यह समस्या हाल फिलहाल में ही हुई है तो। यदि आपकी यह समय लम्बे समय से है तो आपको यह दवाई तब तक लेनी है जब तक पूरी तरह ठीक न हो जाये।

यह दवाई पीलिया की समस्या में जो खुजली होती है उसमे भी बहुत ही लाभदायक है। आपको इस समस्या में यह दवाई दो बून्द दिन में तीन बार लगभग 15 दिन तक लेनी है। 15 दिन तक लेने पर आपकी खुजली की समस्या ठीक हो जाएगी। यदि आपको पीलिया के कारण बुखार बहुत होता है तो भी इस दवाई को एक हफ्ते तक लेनी है, आपकी यह समस्या भी ठीक हो जाएगी।

Ask A Doctor

किसी भी रोग को ठीक करने के लिए आप हमारे सुयोग्य होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। डॉक्टर का consultancy fee 200 रूपए है। Fee के भुगतान करने के बाद आपसे रोग और उसके लक्षण के बारे में पुछा जायेगा और उसके आधार पर आपको दवा का नाम और दवा लेने की विधि बताई जाएगी। पेमेंट आप Paytm या डेबिट कार्ड से कर सकते हैं। इसके लिए आप इस व्हाट्सएप्प नंबर पे सम्पर्क करें - +919006242658

नोट :- यह दवाई कुछ बड़ी होम्योपैथी दुकानों पर ही आपको मिल सकती है और यह दवाई आपको ऑनलाइन भी मिल जाएगी।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here